Create

बुखार की कमजोरी कैसे दूर करें-Bukhar ki kamjori kaise dur karen

बुखार की कमजोरी कैसे दूर करें Image: freepik
बुखार की कमजोरी कैसे दूर करें Image: freepik
Ritu Raj

बदलते मौसम के साथ सर्दी-खांसी, जुकाम, बुखार होना आम बात है। वायरल बुखार अमुमन 3-4 दिनों के लिए रहता है। मगर, कई बार बुखार से ठीक होने के बाद भी कमजोरी महसूस होती है। दरअसल, ज्यादातर मौसम वाली बीमारियां शरीर की इम्यूनिटी कमजोर होने की वजह से होती है। इसी वजह से शरीर कमजोर हो जाती है। शरीर की कमजोरी को दूर करने के लिए हेल्दी डाइट लेना बहुत जरूरी है। ऐसे में शरीर की कमजोरी को दूर करने के लिए इन चीजों का करें सेवन।

खिचड़ी का सेवन

बुखार में हमारा लीवर वीक हो जाता है जिसके कारण खाना पचाने में शरीर असमर्थ हो जाता हैं। ऐसे में खिचड़ी एक पौष्टिक और हल्का भोजन होता है जो जल्दी से खाना पचाता है। खिचड़ी आसानी से पच जाती है।

सूजी का उपमा

बुखार में कमजोरी होने के साथ साथ कब्ज की शिकायत होती है। बुखार में कोई भी खाना अच्छा नहीं लगता है और कमजोरी महसूस होती है। ऐसी सिचुएशन होने पर आप डाइट में सूजी का उपमा ले सकते हैं, इससे आपकी कब्ज की परेशानी दूर हो जाएगी।

उबले हुए अंडे

अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है जो कमजोरी दूर करने में बहुत कारगर है। अंडे हमारे शरीर को ऊर्जा देते हैं। अंडे में विटामिन बी 6 और बी12, जिंक और सेलेनियम होता है, जो हमारे रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में मदद करता है।

ज्यादा सूप प‍िएं

फीवर में लिक्वि डाइट ज्यादा लें। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा सूप पीएं। सूप आसानी से पच जाता है। खिचड़ी के साथ सूप भी बुखार के लिए बेहतर खाना होता है। इसमें मौजूद पोषक तत्‍व शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं।

बेसन का शीरा

बुखार में बेसन का शीरा खाना भी बहुत फायदेमंद साबित होता है। बेसन का शीरा सर्दी, खांसी जुकाम और फीवर के लिए काफी हेल्दी खाना माना जाता हैं। बुखार में इसका सेवन करने से गले की खराश और बंद नाक की समस्या आसानी से दूर हो सकती है और आप खुद को अच्छा महसूस करेंगे।


Edited by Ritu Raj

Comments

Fetching more content...