छाती में जमे हुए कफ को ऐसे करें साफ

छाती में जमे हुए कफ को ऐसे करें साफ (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
छाती में जमे हुए कफ को ऐसे करें साफ (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

जीवनशैली में बदलाव, घरेलू उपचार और ओवर-द-काउंटर दवाओं के संयोजन के माध्यम से छाती में जमा कफ को साफ किया जा सकता है। छाती की कंजेशन को कम करने के लिए यहां कई प्रभावी रणनीतियां दी गई हैं:-

youtube-cover

छाती में जमे हुए कफ को ऐसे करें साफ (How to clear accumulated phlegm in chest in hindi)

1. हाइड्रेटेड रहें: पूरे दिन खूब पानी पियें। जलयोजन बलगम को पतला करने में मदद करता है, जिससे इसे छाती से बाहर निकालना आसान हो जाता है।

2. गर्म खारे पानी के गरारे: गर्म नमक के पानी से गरारे करने से गले को आराम मिलता है और बलगम ढीला होता है, जिससे उसके निष्कासन में आसानी होती है।

3. भाप साँस लेना: भाप लेने से छाती में बलगम को नमी और ढीला किया जा सकता है। गर्म स्नान करें या अपने सिर को तौलिये से ढककर गर्म पानी की कटोरी से भाप लें।

4. ह्यूमिडिफायर का प्रयोग करें: अपने कमरे में ह्यूमिडिफ़ायर का उपयोग करने से हवा में नमी आ सकती है, जिससे बलगम की मोटाई कम करने और छाती में जमाव को कम करने में मदद मिलती है।

5. सोते समय अपना सिर ऊंचा रखें: सोते समय अपने सिर को अतिरिक्त तकिये से ऊपर उठाने से बलगम को छाती में जमा होने से रोका जा सकता है, जिससे जमाव कम हो जाता है।

6. गर्म हर्बल चाय: गर्म हर्बल चाय, जैसे अदरक चाय या पुदीना चाय, सुखदायक प्रभाव डाल सकती है और बलगम को तोड़ने में मदद कर सकती है।

7. छाती पर टक्कर: छाती पर धीरे से थपथपाने या ताली बजाने से बलगम को ढीला करने में मदद मिल सकती है, जिससे खांसी को निकालना आसान हो जाता है। इस तकनीक को सावधानी से किया जाना चाहिए और अक्सर एक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर द्वारा इसे सबसे अच्छा किया जाता है।

8. ओवर-द-काउंटर एक्सपेक्टोरेंट: गुइफ़ेनेसिन युक्त ओवर-द-काउंटर एक्सपेक्टोरेंट का उपयोग करने पर विचार करें, जो बलगम को पतला और ढीला करने में मदद कर सकता है, जिससे इसे साफ करना आसान हो जाता है।

9. शहद और नींबू: गर्म पानी या चाय में शहद और नींबू मिलाएं। शहद में प्राकृतिक जीवाणुरोधी गुण होते हैं, और नींबू समग्र श्वसन स्वास्थ्य को बढ़ावा देकर विटामिन सी प्रदान कर सकता है।

10. चिड़चिड़ाहट से बचें: सिगरेट के धुएं और अन्य पर्यावरणीय परेशानियों से दूर रहें, क्योंकि वे छाती में जमाव को खराब कर सकते हैं।

11. सक्रिय रहें: हल्की शारीरिक गतिविधि, जैसे चलना या योग, परिसंचरण में सुधार करने और छाती के कंजेशन को कम करने में मदद कर सकती है।

12. गर्म सेक: छाती पर गर्म सेक लगाने से असुविधा को शांत करने में मदद मिल सकती है और छाती में जमाव से राहत मिल सकती है।

13. ओटीसी डिकॉन्गेस्टेंट: ओवर-द-काउंटर डिकॉन्गेस्टेंट, जैसे स्यूडोएफ़ेड्रिन, अस्थायी रूप से छाती के कंजेशन से राहत दे सकते हैं। हालाँकि, इनका उपयोग सावधानी के साथ और स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर के मार्गदर्शन में किया जाना चाहिए, विशेष रूप से कुछ स्वास्थ्य स्थितियों वाले व्यक्तियों में।

14. अदरक सेक: छाती पर गर्म अदरक का सेक लगाने से राहत मिल सकती है। अदरक में सूजनरोधी गुण होते हैं और यह बलगम को तोड़ने में मदद कर सकता है।

यदि छाती में जमाव बना रहता है या अन्य संबंधित लक्षणों के साथ है, तो चिकित्सा सलाह लेना महत्वपूर्ण है। क्रोनिक या गंभीर जमाव एक अंतर्निहित श्वसन स्थिति का संकेत हो सकता है जिसके लिए पेशेवर मूल्यांकन और उपचार की आवश्यकता होती है। नए उपचार आज़माने से पहले हमेशा स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से परामर्श लें, खासकर यदि आपको पहले से कोई स्वास्थ्य समस्या है या आप दवाएँ ले रहे हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar