डिप्रेशन में पाचन तंत्र का अच्छे से इलाज कैसे करें?

How to properly treat the digestive system in depression?
डिप्रेशन में पाचन तंत्र का अच्छे से इलाज कैसे करें?

अवसाद एक सामान्य मानसिक स्वास्थ्य विकार है जो दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रभावित करता है। स्थिति विभिन्न लक्षणों जैसे थकान, ऊर्जा की कमी और भूख में परिवर्तन को जन्म दे सकती है। कुछ मामलों में, अवसाद का पाचन तंत्र पर भी प्रभाव पड़ सकता है, जिससे कब्ज, दस्त और पेट दर्द जैसे लक्षण हो सकते हैं।

हालांकि, अवसाद में पाचन तंत्र का इलाज करने के कई तरीके हैं, और यह लेख कुछ सबसे प्रभावी रणनीतियों का पता लगाएगा I

स्वस्थ आहार लें

अवसाद में पाचन तंत्र के इलाज में सबसे महत्वपूर्ण कदमों में से एक स्वस्थ और संतुलित आहार बनाए रखना है। इसका अर्थ है प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, शर्करा युक्त पेय और उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों के सेवन को सीमित करते हुए फलों, सब्जियों, साबुत अनाज और लीन प्रोटीन का भरपूर सेवन करना। एक संतुलित आहार आंत में सूजन को कम करने और स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है, जिससे कब्ज और दस्त जैसे लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है।

हाइड्रेटेड रहना है ज़रूरी

हाइड्रेटेड रहना है ज़रूरी!
हाइड्रेटेड रहना है ज़रूरी!

निर्जलीकरण कब्ज जैसे पाचन संबंधी लक्षणों को बढ़ा सकता है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप दिन भर में ढेर सारा पानी और अन्य तरल पदार्थ पिएं। एक दिन में कम से कम आठ गिलास पानी पीने का लक्ष्य रखें, और चीनी या कैफीन युक्त पेय पदार्थों से बचने की कोशिश करें क्योंकि ये डीहाइड्रेटिंग हो सकते हैं।

विश्राम तकनीकों का अभ्यास करें

तनाव और चिंता पाचन संबंधी लक्षणों को बढ़ा सकते हैं, इसलिए ध्यान, गहरी सांस लेने और योग जैसी विश्राम तकनीकों के माध्यम से अपने तनाव के स्तर को प्रबंधित करना महत्वपूर्ण है। ये अभ्यास कोर्टिसोल जैसे तनाव हार्मोन को कम करने में मदद कर सकते हैं, जो पाचन में हस्तक्षेप कर सकते हैं।

youtube-cover

नियमित रूप से व्यायाम करें

व्यायाम पाचन तंत्र में रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर और स्वस्थ मल त्याग को बढ़ावा देकर पाचन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। दिन में कम से कम 30 मिनट, सप्ताह में पांच दिन व्यायाम करने का लक्ष्य रखें और ऐसी गतिविधियाँ चुनें जो आपको पसंद हों जैसे चलना, तैरना या साइकिल चलाना।

प्रोबायोटिक्स पर विचार करें

प्रोबायोटिक्स फायदेमंद बैक्टीरिया हैं जो आंत में रहते हैं और स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। यदि आप डायरिया या ब्लोटिंग जैसे पाचन संबंधी लक्षणों का अनुभव कर रहे हैं, तो प्रोबायोटिक सप्लीमेंट लेने या ऐसे खाद्य पदार्थ खाने पर विचार करना मददगार हो सकता है जो प्रोबायोटिक्स से भरपूर हों, जैसे कि दही, केफिर और सॉकरक्राट।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now