असंतुलित हार्मोन को इस तरह से करें ठीक

असंतुलित हार्मोन को इस तरह से करें ठीक
असंतुलित हार्मोन को इस तरह से करें ठीक

महिलाओं में अक्सर असंतुलित हार्मोन की समस्या बनी रहती है। जिसके कारण उनको बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। असंतुलित हार्मोन के चलते मूड स्विंग होना सबसे ज्यादा आम बात है। यही नहीं इससे भूख, वजन और यहां तक की स्वास्थ्य पर भी असर पड़ता है। महिलाओं में कई ऐसी बीमारियां होती हैं, जो हार्मोन के चलते होती हैं। आज इस लेख में हम आपको बताएंगे कि किस तरह से आप अपने हार्मोन को संतुलित रख सकते हैं। तो आइए जानते हैं।

असंतुलित हार्मोन को इस तरह से करें ठीक improve your unbalanced hormones in this way in hindi

योग - योग हमारी बहुत सी समस्याओं का समाधान होता है। अगर आप असंतुलित हार्मोन से जूझ रही हैं, तो योग का सहारा लें। नियमित तौर पर योग करें। इससे आपका मन शांत रहेगा और आप खुद को फिट भी महसूस करेंगी।

मीठे का सेवन कम करें - चीनी का सेवन किसी भी व्यक्ति के लिए हानिकारक होता है। ऐसे में अगर कोई महिला मीठे का बहुत ज्यादा सेवन कर रही है, तो मीठे का सेवन कम कर देना चाहिए। क्योंकि मीठा हार्मोन को असंतुलित करने में बहुत अहम भूमिका निभाता है।

ग्रीन टी का सेवन - ग्रीन टी का सेवन करने से हार्मोन को बैलेंस रखने में बहुत मदद मिलती है। ग्रीन टी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है ग्रीन टी स्वस्थ इंसुलिन के स्तर को बढ़ाने में भी मदद करती है। इसलिए ग्रीन टी का सेवन करना फायदेमंद होता है।

कैफीन का सेवन न करें - हार्मोन को सही रखना चाहते हैं, तो कैफीन का सेवन करना बंद करें। कैफीन के सेवन से हार्मोन में गड़बड़ी आती है, जिससे आपको चिड़चिड़ाहट महसूस हो सकती है। यही नहीं कैफीन आपको कई तरह से हर्ट कर सकती है।

फाइबर का सेवन करें - अगर आप फाइबर का सेवन ज्यादा करेंगी, तो इससे आपको ताकत मिलेगी। फाइबर के सेवन से हार्मोन स्थिर बनाए रखने में मदद मिलती है। यही नहीं फाइबर के सेवन से इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ावा देने में मदद मिलती है।

ओमेगा 3 फैटी एसिड - ओमेगा 3 फैटी एसिड का सेवन करने से सूजन में राहत मिलती है। वहीं इसके सेवन से हार्मोन को बैलेंस रखने में मदद मिलती है। इसके लिए मक्षली, अलसी का सेवन करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Shilki