Create

इन 3 पत्तों को चबाने पर यूरिक एसिड की दिक्कत होगी कम : In 3 Patte Ko Chabane Par Uric Acid Ki Dikkat Hogi Kam

इन 3 पत्तों को चबाने पर यूरिक एसिड की दिक्कत होगी कम (फोटो - sportskeeda hindi)
इन 3 पत्तों को चबाने पर यूरिक एसिड की दिक्कत होगी कम (फोटो - sportskeeda hindi)

अगर किसी को हाई यूरिक एसिड (High Uric Acid) की समस्या है तो इसकी वजह से शरीर में गठिया की परेशानी भी हो सकती है। यही नहीं, किडनी से लेकर लिवर (Liver) तक के लिए भी ये खतरनाक होता है। शरीर में यूरिक एसिड बढ़ जाने पर किडनी सही से यूरिक एसिड को फिल्टर नहीं कर पाती है, जिसकी वजह से खून में समाहित हो जाते हैं और जोड़ों के बीच जाकर जमा हो जाते हैं। यही कारण है कि इसके बढ़ने से हड्डी, जोड़ और टिश्यू का डैमेज होना बढ़ जाता है।

इन 3 पत्तों को चबाने पर यूरिक एसिड की दिक्कत होगी कम -

धनिया का पत्ता (coriander leaves) - यूरिक एसिड का लेवल कम करने के लिए धनिया का पत्ता रोजाना खाना चाहिए।धनिया के पत्ते ब्लड में क्रिएटिनिन और यूरिक एसिड लेवल को कम करने में जादुई तरीके से काम करते हैं। इसमें फाइबर, आयरन, मैंगनीज और मैग्नीशियम, विटामिन सी और के पाया जाता है। इसमें कैल्शियम, पोटैशियम, थायमिन, फॉस्फोरस और नियासिन जैसे मिनरल्स भी पाए जाते हैं। ऐसे में दवा के तौर पर धनिया को पानी में उबाल कर पीना चाहिए। इसके लिए एक मुठ्‌ठी धनिया दो गिलास पानी में डालकर दस मिनट तक उबाले फिर से पी लें।

तेज पत्ता (Bay leaf) - अक्सर खाने में मसाले के रूप में तेज पत्ते का उपयोग किया जाता है। तेज पत्ता न सिर्फ खाने के स्वाद को बढ़ाता है बल्कि यह सेहत के लिए भी लाभकारी है। इसमें विटामिन सी, विटामिन ए और फोलिक एसिड होता है जो शरीर के स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं। जिन लोगों को हाई यूरिक एसिड की परेशानी है उसे कम करने के लिए तेज पत्ते को कारगर माना जाता है। कम से कम 15 तेज पत्ते लें कर उसे तीन गिलास पानी में उबाल लें और फिर इसे पीएं।

पान के पत्ते (Betel leaves) - पान के पत्ते अक्सर लोग पूजा के लिए उपयोग करते हैं, लेकिन इसके साथ ही इसका उपयोग यूरिक एसिड लेवल को कम करने में मदद करता हैं। इसके लिए आप पान के पत्ते चबा सकते हैं लेकिन इस बात का ध्यान रहे कि उसके साथ किसी भी तरह के तंबाकू का इस्तेमाल न करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment