भोजन किस तरह से हमारे मूड का इलाज कर सकता है?

In what way can food cure our mood?
भोजन किस तरह से हमारे मूड का इलाज कर सकता है?

भोजन हमारे शारीरिक और भावनात्मक कल्याण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह सर्वविदित है कि भोजन हमारे शारीरिक स्वास्थ्य को प्रभावित करता है, लेकिन यह हमारे मूड पर भी गहरा प्रभाव डाल सकता है।

कई अध्ययनों से पता चला है कि कुछ खाद्य पदार्थ हमारे मूड में सुधार कर सकते हैं और यहां तक कि अवसाद और चिंता के लक्षणों को कम करने में भी मदद कर सकते हैं।

आज हम कुछ ऐसे तरीकों पर चर्चा करेंगे जिनसे भोजन हमारे मूड का इलाज कर सकता है।

सेरोटोनिन बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ

सेरोटोनिन एक न्यूरोट्रांसमीटर है जो हमारे मूड को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सेरोटोनिन के निम्न स्तर को अवसाद और चिंता से जोड़ा गया है। कुछ खाद्य पदार्थों में ट्रिप्टोफैन होता है, एक एमिनो एसिड जो शरीर को सेरोटोनिन का उत्पादन करने में मदद करता है। ट्रिप्टोफैन में उच्च खाद्य पदार्थों में टर्की, चिकन, मछली, अंडे, पनीर और टोफू शामिल हैं।

youtube-cover

ओमेगा -3 फैटी एसिड

ओमेगा -3 फैटी एसिड एक प्रकार का पॉलीअनसैचुरेटेड फैट है जो वसायुक्त मछली, जैसे सैल्मन, मैकेरल और सार्डिन में पाया जाता है। ओमेगा -3 फैटी एसिड को मूड पर सकारात्मक प्रभाव दिखाया गया है और यह अवसाद और चिंता के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है।

प्रोबायोटिक्स

प्रोबायोटिक्स जीवित बैक्टीरिया और यीस्ट होते हैं जो हमारे पाचन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। वे दही, केफिर, सौकरौट और किमची जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं। हाल के शोध से पता चला है कि प्रोबायोटिक्स का मूड पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट फ्लेवोनॉयड्स से भरपूर होती है, एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट जो मूड पर सकारात्मक प्रभाव डालता है। फ्लेवोनॉयड्स मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करते हैं, जो संज्ञानात्मक कार्य और मनोदशा को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

विटामिन डी

विटामिन डी एक पोषक तत्व है जो हमारे समग्र स्वास्थ्य और कल्याण के लिए आवश्यक है। यह स्वस्थ हड्डियों को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, लेकिन इसका मूड पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

विटामिन डी!
विटामिन डी!

शोध ने सुझाव दिया है कि विटामिन डी का निम्न स्तर अवसाद और अन्य मूड विकारों के बढ़ते जोखिम से जुड़ा हुआ है। विटामिन डी वसायुक्त मछली, अंडे की जर्दी और दूध और अनाज जैसे गरिष्ठ खाद्य पदार्थों में पाया जाता है। हालांकि, विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत सूरज की रोशनी है। बाहर धूप में समय बिताना विटामिन डी के स्तर को बढ़ाने और मूड को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

बी विटामिन

बी विटामिन, विशेष रूप से विटामिन बी6, बी9 और बी12, हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। वे सेरोटोनिन और डोपामाइन जैसे न्यूरोट्रांसमीटर का उत्पादन करने में मदद करते हैं, जो हमारे मूड को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now