इन 7 healing herbs को अपने दैनिक आहार में शामिल करें

इन 7 healing herbs को अपने दैनिक आहार में शामिल करें (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
इन 7 healing herbs को अपने दैनिक आहार में शामिल करें (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सदियों से जड़ी-बूटियों का उपयोग उनके औषधीय गुणों और उपचार लाभों के लिए किया जाता रहा है। अपने दैनिक आहार में हीलिंग जड़ी बूटियों को शामिल करना समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है और विभिन्न बीमारियों को रोक सकता है। यहां 7 उपचार जड़ी बूटियां दी गई हैं जिन्हें आप अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं:-

youtube-cover

इन 7 healing herbs को अपने दैनिक आहार में शामिल करें (Include These 7 Healing Herbs In Your Daily Diet In Hindi)

1. हल्दी (Turmeric)

हल्दी एक मसाला है जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह शरीर में सूजन को कम करने और मस्तिष्क के कार्य में सुधार करने के लिए दिखाया गया है। आप अपने भोजन में हल्दी शामिल कर सकते हैं या हल्दी की चाय पी सकते हैं।

2. अदरक (Ginger)

अदरक में सूजनरोधी और दर्द निवारक गुण होते हैं। यह मतली और अपच जैसे पाचन संबंधी मुद्दों को कम करने में मदद कर सकता है। अदरक का सेवन विभिन्न रूपों में किया जा सकता है जैसे कि अदरक की चाय, जिंजर एले, या बस इसे अपने भोजन में शामिल करके।

3. लहसुन (Garlic)

लहसुन में एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और विभिन्न बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। आप अपने भोजन में लहसुन शामिल कर सकते हैं या लहसुन की खुराक ले सकते हैं।

4. दालचीनी (Cinnamon)

दालचीनी एक मसाला है जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करने और हृदय रोग के जोखिम को कम करने के लिए दिखाया गया है। आप अपने भोजन में दालचीनी को शामिल कर सकते हैं या दालचीनी की चाय पी सकते हैं।

5. तुलसी (Holy Basil)

तुलसी, जिसे पवित्र तुलसी के नाम से भी जाना जाता है, में सूजन-रोधी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह तनाव को कम करने और मस्तिष्क के कार्य में सुधार करने में मदद कर सकता है। आप अपने भोजन में पवित्र तुलसी के पत्ते शामिल कर सकते हैं या तुलसी की चाय पी सकते हैं।

6. मेंहदी (Rosemary)

रोजमेरी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह पाचन में सुधार करने और विभिन्न रोगों के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। आप अपने भोजन में मेंहदी को शामिल कर सकते हैं या मेंहदी की चाय पी सकते हैं।

7. थाइम (Thyme)

थाइम में जीवाणुरोधी और विरोधी भड़काऊ गुण होते हैं। यह श्वसन क्रिया को बेहतर बनाने और विभिन्न बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। आप थाइम को अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं या थाइम चाय पी सकते हैं।

अंत में, अपने दैनिक आहार में हीलिंग जड़ी बूटियों को शामिल करना समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है और विभिन्न बीमारियों को रोक सकता है। इन जड़ी बूटियों को आपके भोजन में जोड़ा जा सकता है, या चाय या सप्लीमेंट के रूप में सेवन किया जा सकता है। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि जड़ी-बूटियों को संयम में इस्तेमाल किया जाना चाहिए और चिकित्सा उपचार को प्रतिस्थापित नहीं करना चाहिए। यदि आपके पास कोई चिकित्सीय स्थिति या चिंता है, तो किसी भी जड़ी-बूटी को अपने आहार में शामिल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना सबसे अच्छा है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now