Create

जामुन की गुठली के फायदे-Jamun Ki Ghutli Ke Fayde

जामुन की गुठली के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
जामुन की गुठली के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
reaction-emoji
Rakshita Srivastava

जामुन (Jamun) का सेवन स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। जामुन का सेवन सबसे ज्यादा पेट के लिए लाभादयक साबित होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं सिर्फ जामुन ही नहीं, बल्कि इसकी गुठली भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद मानी जाती है। जामुन की गुठली में औषधीय गुण पाए जाते हैं। अगर आप जामुन की गुठली का पाउडर बनाकर सेवन करते हैं, तो इससे कई बीमारियां दूर होती है। जानिए जामुन की गुठली के क्या-क्या फायदे होते हैं।

जामुन की गुठली का पाउडर बनाने का तरीका

जामुन की गुठली का पाउडर बनाने के लिए जामुन की गुठली को अच्छी तरह से धो लेना चाहिए, इसके बाद गुठली को धूप में सूखा लेना चाहिए। जब गुठली अच्छी तरह से सूख जाए, तब उसको पीसकर पाउडर बना लें।

जामुन की गुठली के फायदे (Jamun Ki Ghutli Ke Fayde In Hindi)

शुगर लेवल रहता है कंट्रोल

जामुन की गुठली डायबिटीज (Diabetes) मरीजों के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है। क्योंकि इससे शुगर लेवल कंट्रोल रहता है। इसके लिए रोजाना सुबह गुनगुने पानी के साथ गुठली के पाउडर का सेवन करना चाहिए।

कब्ज की समस्या होती है दूर

जामुन ही नहीं बल्कि जामुन का गुठली का पाउडर भी पेट के लिए फायदेमंद माना जाता है। अगर कोई रोजाना सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ गुठली के पाउडर का सेवन करता है, तो इससे कब्ज (Constipation) की शिकायत दूर होती है।

ब्लड प्रेशर रहता है कंट्रोल

जामुन की गुठली के सेवन से ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) भी कंट्रोल में रहता है। अगर किसी को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती है, तो उसे रोजाना गुठली के पाउडर का सेवन करना चाहिए।

पीरियड्स के दर्द में मिलता है आराम

पीरियड्स में महिलाओं को ब्लीडिंग के दौरान काफी दर्द होता है। लेकिन अगर आप जामुन की गुठली के पाउडर का सेवन करते हैं, तो इस दर्द से काफी हद तक छुटकारा पा सकते हैं।

दांत होते हैं मजबूत

जामुन की गुठली में कैल्शियम पाया जाता है। इसलिए अगर आप इसके गुठली के पाउडर का सेवन करते हैं, तो इससे दांत मजबूत होते हैं। साथ ही यह दांत दर्द में भी फायदेमंद साबित होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...