मूली खाने के फायदे और नुकसान

मूली खाने के फायदे और नुकसान (sportskeeda Hindi)
मूली खाने के फायदे और नुकसान (sportskeeda Hindi)

मूली (Muli) का इस्तेमाल अक्सर लोग सलाद के साथ-साथ विभिन्न तरीके की रेसिपी बनाने में करते हैं। मूली का सेवन सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। बता दें, मूली में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, मैंगनीज, विटामिन सी, फॉलिक एसिड के साथ कई ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कैंसर, सर्दी-जुकाम, हदय रोग, वजन कम करने में मदद करता है। तो चलिए जानते हैं,मूला खाने के फायदे और नुकसान।

youtube-cover

मूली खाने के फायदे और नुकसान : Muli Khane Ke 5 Fayde Aur 2 Nuksan In Hindi

खांसी की समस्या में -

अगर किसी व्यक्ति को वात दोष के कारण खांसी की समस्या हो रही हैं, तो ऐसे में मूली का सेवन काफी कारगर साबित हो सकता है। इसके लिए थोड़ी मूली सुखाकर इसका पाउडर बना लें। इसका 1 ग्राम सेवन करने से आपको खांसी की समस्या में फायदा मिलेगा।

सर्दी-जुकाम की समस्या दूर करने के लिए -

अगर किसी को सर्दी जुकाम हो रखा है तो ऐसे में कच्ची मूली का 20-30 मिली जूस निकालकर पी लें। इसे सर्दी-जुकाम की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

एसिडिटी को करने के लिए -

अगर आप एसिडिटी की समस्या से परेशान है तो कच्ची मूली (Muli) का सेवन करें। इससे आपको फायदा मिलेगा।

पीलिया की समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए -

अगर आप पीलिया की समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो इसके लिए मूली काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। इसके लिए मूली के ताजे पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें। फिर इसे दूध में डालकर उबाल लें। जब झाग ऊपर आ जाए तो इसे उबालकर पी लें।

कैंसर की बीमारी दूर रखे -

मूली (Muli) में भरपूर मात्रा में विटामिन सी, फॉलिक एसिड के साथ ऐसे गुण पाए जाते हैं, जो मुंह, पेट, किडनी और आंत के कैंसर को दूर रख सकते हैं।

मूली खाने के नुकसान

जहां मूला के सेवन से व्यक्ति को फायदा मिलता है, वहीं अगर इसका सेवन अधिक और गलत तरीके से किया जाए तो नुकसान भी हो सकता है।

1 . मछली के साथ कभी भी मूली का सेवन नहीं करना चाहिए।

2 . चने के साथ मूली (Muli) का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। अगर आपको गले में सूजन, दर्द और शरीर में सूजन है तो इससे समस्या बढ़ सकती है। इसलिए इसका सेवन न करे।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan