Create

कचनार के फूल में हैं कमाल के गुण, जानिए सेहत के लिए फायदे 

कचनार के फूल में हैं कमाल के गुण, जानिये सेहत के लिए फायदे
कचनार के फूल में हैं कमाल के गुण, जानिये सेहत के लिए फायदे

कचनार के फूल में औषधीय गुण होते हैं। गुलाबी रंग का ये फूल दिखने में जितना सुंदर लगता हैं इसका आयुर्वेद में भी उतना बड़ा महत्व होता है। कचनार के न सिर्फ फूल बल्कि कचनार के पत्तियां, जड़ सभी उपयोगी होते हैं। कचनार के फूल kachnar flowers से बहुत सी शारीरिक समस्याओं को ठीक किया जा सकता है। इस फूल में फोड़े-फुंसी ही नहीं किसी भी तरह के गांठ को खत्म करने की शक्ति होती है। ब्लड से जुड़ी समस्या या स्किन Skin से संबंधित परेशानी हर चीज में ये काम आता है। दाद, खाज-खुजली, फोड़े-फुंसी आदि के लिए भी कचनार की छाल का प्रयोग करना सबसे बेस्ट होता है। ब्रेस्ट कैंसर में भी इसका प्रयोग औषधी के रूप में किया जाता है। तो आइए जानते हैं कचनार के फूल के सेहत के लिए फायदे।

कचनार के फूल में हैं कमाल के गुण, जानें सेहत के लिए फायदे - Kachnar Ke Phool Se Hain Kamal Ke Gun, Janiye Sehat Ke Liye Fayde In Hindi

भगंदर और बवासीर में लाभदायक - कचनार की छाल का एक चम्मच पाउडर एक गिलास छाछ के साथ दिन में कम से कम तीन बार पीने से खूनी बवासीर और भगंदर fissures and hemorrhoids में आराम मिलता है।

आंतों के कीड़े में लाभदायक - यदि आंतों में कीड़े intestinal worms हो तो कचनार की छाल को पानी में उबाल कर काढ़ा बना लें और इस काढ़े को रोज कम से कम दो बार पीएं। 15 दिन लगातार पीने से आंत के कीड़े खत्म हो जाएंगे।

शरीर की सूजन में लगाएं - यदि आपको शरीर में कहीं भी सूजन swelling हो, तो कचनार के फूलों का लेप बनाकर लगाया जा सकता है। इससे उस जगह की सूजन में आराम मिलता है।

ब्रेस्ट पर हुई गांठ होगी खत्म - कचनार की छाल को पीसकर उसका पाउडर बना लें और एक चम्मच पाउडर लेकर उसमें आधा ग्राम सोंठ मिला दें। अब चावल को धोने के बाद जो पानी बचता है उसमें इस पाउडर को मिलाकर इसका लेप बना लें। इस लेप को गर्म कर ब्रेस्ट पर लगाएं। इससे ब्रेस्ट कैंसर breast cancer में भी आराम मिलता है। कुछ दिनों में गांठ गल जाएगी।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Shilki
Be the first one to comment