Create

कलौंजी तेल के फायदे : Kalaunji Tel Ke Fayde

कलौंजी तेल के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
कलौंजी तेल के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

कलौंजी के बीज (Black Seeds) में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) 100% पाया जाता है। इसलिए अच्छे परिणामों के लिए नाश्ते से पहले 7 कलौंजी के बीजों को शहद के साथ गर्म पानी के साथ लेने की सलाह दी जाती है। हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (HCQ) को बाजार में प्लाक्वेनिल के रूप में बेचा जाता है और मलेरिया के इलाज में उपयोगी है। यह रूमेटाइड आर्थराइटिस, ल्यूपस, पोरफाइरिया में भी फायदेमंद होता है। COVID-19 रोगियों के लाभों के लिए कोरोनावायरस के खिलाफ प्रायोगिक उपचार के रूप में भी इसका अध्ययन किया जा रहा है। इस्तेमाल में, कलौंजी तेल का उपयोग करना आसान माना गया है। इस लेख में आपको कलौंजी तेल के फायदों के बारें में बताया गया है।

कलौंजी तेल के फायदे : Kalaunji Tel Ke Fayde In Hindi

बालों का झड़ना रोकता है (Prevents hair problems)

बालों के झड़ने की रोकथाम में सकारात्मक परिणाम पाने के लिए इसे 15 दिनों तक जारी रखें। कलौंजी का तेल (10 ग्राम), जैतून का तेल (30 ग्राम) और मेहंदी पाउडर (30 ग्राम) को गर्म करके पेस्ट बना लें। इसे ठंडा करें और पेस्ट को हफ्ते में एक बार स्कैल्प पर लगाएं। कलौंजी का तेल (10 ग्राम), जैतून का तेल (30 ग्राम) और मेहंदी पाउडर (30 ग्राम) का पेस्ट बनाकर सिर पर लगाने से भी गंजेपन की समस्या दूर हो सकती है।

मधुमेह की रोकथाम (Prevents diabetes)

मधुमेह के प्रबंधन और रोकथाम में कलौंजी के तेल का उपयोग फायदेमंद होता है। काली चाय (1 कप) और कलौंजी के तेल (आधा चम्मच) के काढ़े से एक मिश्रण तैयार किया जाता है। इस मिश्रण को सुबह और सोने से पहले लेने की सलाह दी जाती है। एक माह में बेहतर परिणाम मिलने के योग हैं।

पिंपल्स हटाने के लिए (Remove Pimples)

मीठे नीबू के रस (1 कप) और कलौंजी के तेल (½ छोटा चम्मच) को मिलाकर एक मिश्रण बनाएं। इस मिश्रण को चेहरे पर सुबह के साथ-साथ रात को भी लगाएं। यह त्वचा की चमक में मदद करता है, मुंहासों, मुंहासों, दाग-धब्बों और किसी भी अन्य काले धब्बे को रोकता है। सिरके (1 कप) और कलौंजी के तेल (आधा चम्मच) के मिश्रण को सुबह और सोने से पहले लगाने से भी सफेद या काले धब्बों (Dark spots) से बचा जा सकता है।

जोड़ों के दर्द को ठीक करता है (Cures joint pain)

कलौंजी का तेल (½ छोटा चम्मच), सिरका (1 कप) और शहद (2 चम्मच) का मिश्रण दिन में दो बार जोड़ों पर लगाया जाता है। गठिया (Arthritis) की रोकथाम में भी यह जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए अच्छा है। सूखे अंजीर (2 इंच), कलौंजी का तेल (½ छोटा चम्मच), और दूध (1 कप) को मिलाकर दिन में एक बार लेने से जोड़ों के दर्द, गर्दन और कमर दर्द में लाभ होता है।

रक्तचाप कम करने के लिए (Lowers blood pressure)

कलौंजी का तेल ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। कलौंजी का तेल (½ चम्मच) गर्म चाय में मिलाकर दिन में दो बार पीएं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment