Create

लिवर में इन्फेक्शन के लक्षण- Liver me infection ke lakshan

लिवर में इन्फेक्शन के लक्षण ( फोटो- webdunia )
लिवर में इन्फेक्शन के लक्षण ( फोटो- webdunia )

लिवर (Liver) हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है। यह शरीर के दाहिनी तरफ होता है। लिवर का काम शरीर में खाने का पचाने और पित्त को बनाने का होता है। साथ ही लिवर खून को भी साफ करने का काम करता है। लिवर से संबंधी कई तरह की बीमारियां होती है। इसलिए लिवर को स्वस्थ्य रखना बहुत जरूरी होता है। जानिए लिवर में इन्फेक्शन (Liver infection) के क्या-क्या लक्षण होते हैं।

लिवर में इन्फेक्शन के कारण

  • गलत खान-पान
  • अल्कोहल
  • अनियमित जीवनशैली

लिवर में इन्फेक्शन के लक्षण (liver me infection ke lakshan in hindi)

शरीर का पीला पड़ना

लिवर में इन्फेक्शन का सबसे पहला लक्षण यह होता है कि शरीर पीला पड़ने लगता है। साथ ही आंखों का सफेद हिस्सा भी पीला हो जाता है।

पेट दर्द होना

लिवर में इन्फेक्शन होने पर अक्सर पेट दर्द (Stomach pain) की शिकायत होती है। जिसकी वजह से कुछ खाने का मन नहीं करता है। साथ ही भूख लगना भी बंद हो जाती है।

यूरिन का रंग बदलना

अगर किसी के लिवर में इन्फेक्शन की समस्या होती है, तो उसके यूरिन का रंग बदल जाता है। इन्फेक्शन के चलते यूरिन का रंग गहरा हो जाता है।

खुजली की समस्या होना

लिवर में इन्फेक्शन होने पर शरीर में खुजली की समस्या शुरू हो जाती है। पहले खुजली हाथ या पैरों से शुरू होती है। फिर शरीर के सभी अंगों में होने लगती है। जिससे स्किन काफी ड्राई हो जाती है।

पेट फूलना

अगर किसी को अचानक पेट फूलने की समस्या हो जाएं। तो यह लिवर में सूजन के लक्षण हो सकते हैं। कई लोग पेट फूलने को मोटापा समझ लेते हैं। जिसकी वजह से लिवर में सूजन बढ़ती जाती है।

हाथों और पैरों में सूजन होना

लिवर में इन्फेक्शन की वजह से कभी-कभी हाथों और पैरों में सूजन (Swelling) की समस्या हो जाती है।

उल्टी महसूस होना

अक्सर उल्टी (Vomiting) जैसा महसूस होना भी लिवर में इन्फेक्शन के कारण हो सकता है।

इन चीजों का करें सेवन

लिवर को स्वस्थ्य रखने के लिए पौष्टिक आहारों का सेवन करना चाहिए। इसके लिए हरी सब्जियां, फल, दलिया, पनीर इन सब चीजों को अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment