Create

मखाने को देसी घी में रोस्ट करके खाने के फायदे : Makhana Ko Desi Ghee Mei Roast Karke Khane Ke Fayde

मखाने को देसी घी में रोस्ट करके खाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
मखाने को देसी घी में रोस्ट करके खाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)

अगर आप खुद को हेल्दी रखना चाहते हैं तो आपको ऐसे अनहेल्दी स्नैक्स खाने की आदत छोड़नी चाहिए। जब भी हल्की भूख लगे तो ऐसे में कुछ हेल्दी स्नैक्स खाने की आदत डाल सकते हैं, जैसे- रोस्टेड नट्स, भुने हुए चने, स्प्राउट्स या भुने हुए मखाने। मखाना सेहत के लिए बहुत हेल्दी होता है। ये सिर्फ देखने में ही हल्का नहीं होता, बल्कि इसमें कैलोरीज भी काफी कम होती हैं और पोषक तत्व ज्यादा होते हैं। वहीं अगर आप मखाने को देसी घी में रोस्ट करके करके खाते हैं, तो यह मानसिक व शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी काफी लाभकारी होता है। मखाने में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो मानव शरीर के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं। तो चलिए जानते हैं मखाने को देसी घी में रोस्ट करके खाने के क्या फायदे हैं।

मखाने को देसी घी में रोस्ट करके खाने के फायदे : Makhana Ko Desi Ghee Mei Roast Karke Khane Ke Fayde In Hindi

वजन घटाने में मददगार - मखाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इसका सेवन करने से वजन कम में मदद मिलती है। क्योंकि इनमें कैलोरी कम मात्रा में होती है। वहीं अगर मखाने को घी में भूनकर खाया जाए, तो इससे पेट भरा महसूस होता है। इससे ज्यादा खाने की इच्छा में कमी आती है। प्रोटीन से भरपूर होने की वजह से यह मेटाबॉलिज्म दर को बढ़ावा देते हैं।

पाचन के लिए फायदेमंद - देसी घी में ब्यूटिरिक एसिड होता है, जिसका सेवन करने से डिटॉक्सिफिकेशन में सहायता मिलती है। इस तरह यह पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में शरीर की मदद करता है। आप पाचन में सुधार लाने के लिए देसी घी में भुने मखानों का सेवन रोजाना कर सकते हैं।

किडनी के लिए गुणकारी - मखाने को देसी घी में भूनकर खाने से किडनी को फायदा मिलता है। इससे प्लीहा डिटॉक्सीफाई होती है। इस तरह यह आपके शरीर से विषाक्त पदार्थों को भी बाहर निकालने में सहायक हो सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment