Create

मानसून में काढ़ा पीने के 5 फायदे

मानसून में काढ़ा पीने के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
मानसून में काढ़ा पीने के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)

मानसून का मौसम गर्मी से राहत दिलाता है। लेकिन इस मौसम में बीमार पड़ने का खतरा भी बढ़ जाता है। क्योंकि मानसून में इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है, जिसकी वजह से आप आसानी से वायरल इंफेक्शन की चपेट में आ जाते हैं। इसलिए इस मौसम में बीमार पड़ने से बचने के लिए आपको काढ़े (Kadha) का सेवन करना चाहिए। जी हां क्योंकि काढ़ा औषधीय गुणों से भरपूर होता है। काढ़ा को बनाने के लिए तुलसी, काली मिर्च, लौंग, शहद, हल्दी, दालचीनी जैसी चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, जो आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से दूर रखने में मददगार साबित होते हैं। तो आइए जानते हैं मानसून में काढ़ा पीने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

मानसून में काढ़ा पीने के 5 फायदे- Monsoon Me Kadha Pine Ke Fayde In Hindi

सर्दी-जुकाम में फायदेमंद

मानसून में सर्दी-जुकाम (Cold) की समस्या एक आम समस्या है। लेकिन सर्दी-जुकाम की शिकायत होने पर अगर आप काढ़े का सेवन करते हैं, तो इससे सर्दी-जुकाम की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

इम्यूनिटी होती है मजबूत

मानसून में इम्यूनिटी (Immunity) कमजोर होने की वजह से ही आप बीमारियों की चपेट में आते हैं। लेकिन अगर आप रोजाना एक कप काढ़े का सेवन करते हैं, तो इससे इम्यूनिटी मजबूत होती है। जिससे आप वायरस और बैक्टीरिया की चपेट में आने से बच सकते हैं।

गले में खराश की शिकायत होती है दूर

सर्दी-जुकाम की शिकायत होने पर गले में खराश की शिकायत भी हो जाती है। लेकिन गले में खराश होने पर अगर आप काढ़े का सेवन करते हैं, तो यह फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि काढ़ा में एंटी बैक्टीरियल गुण पाया जाता है, जो गले में खराश की समस्या को दूर करने में मदद करता है।

विषाक्त पदार्थ निकलते हैं बाहर

शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थ की वजह से आप कई बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। लेकिन अगर आप नियमित रूप से काढ़े का सेवन करते हैं, तो इससे शरीर में मौजूद टॉक्सिन्स बाहर निकलते हैं। जिससे शरीर स्वस्थ रहता है।

डायबिटीज में फायदेमंद

डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों के लिए काढ़े का सेवन फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि अगर डायबिटीज के मरीज काढ़े का सेवन करते हैं, तो इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है।

काढ़ा बनाने का तरीका- काढ़ा बनाने के लिए एक पैन में एक गिलास पानी डालना चाहिए, फिर उसमें तुलसी के पत्ते, हल्दी पाउडर, दालचीनी, लौंग, काली मिर्च डाल देना चाहिए, इसके बाद पानी को अच्छी तरह से उबलने देना चाहिए, जब पानी उबल के आधा हो जाए, तब काढ़े को छान लेना चाहिए, फिर उसमें शहद मिलाकर पीना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment