मुंह के छाले ठीक करने के उपाय

मुंह के छाले ठीक कैसे करें (sportskeeda Hindi)
मुंह के छाले ठीक कैसे करें (sportskeeda Hindi)

अगर किसी के मुंह में छाले (mouth ulcer) पड़ जाए तो ये काफी दर्द करते हैं। इसकी वजह से व्यक्ति कुछ भी खाने पीने में दर्द महसूस करता है। इसलिए सबसे पहले व्यक्ति को ये पता होना चाहिए कि मुंह में छाले होने के पीछे क्या कारण है। कई बार ये पेट साफ न होने की वजह से, हॉर्मोनल संतुलन बिगड़ने की वजह से, चोट लग जाने से, पीरियड्स periods की वजह से या फिर कॉस्मेटिक सर्जरी की वजह से उभर आते हैं। यह एलर्जी, हॉर्मोन्स में बदलाव, पेट के इंनफेक्शन से भी हो सकते हैं, सिर्फ इतना ही नहीं दांत से मुंह के अंदर खरोंच लगना या गाल कटने भर से भी मुंह में छाले हो सकते हैं। तो चलिए जानते हैं मुंह के छाले कैसे ठीक करें।

youtube-cover

मुंह के छाले ठीक करने के उपाय : Muh Ke Chale Thik Kare Ke Upay In Hindi

देसी घी का उपयोग - मुंह के छालों को दूर करने के लिए देसी घी ghee लाभकारी होता है। रात को सोने से पहले प्रभावित हिस्से पर देसी घी लगाएं। इसे रात भर लगे रहने दें। ऐसा करने से दो-तीन दिनों में ही छाले ठीक हो जाएंगे।

लहसुन का इस्तेमाल - मुंह के छालों से छुटकारा पाने के लिए लहसुन garlic का उपयोग करना फायदेमंद हो सकता है। लहसुन में एंटीबायोटिक गुण होते हैं, जो छालों को दूर करने में मदद करता है। इसके उपयोग के लिए आप लहसुन की दो से तीन कलियां लेकर इसका पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को प्रभावित हिस्से पर लगाएं और 15 मिनट बाद धो लें। ऐसा करने से मुंह के छालों से जल्द राहत मिलेगी।

टमाटर का रस (Tomato juice) - टमाटर में पोटैशियम, विटामिन सी के अलावा विटामिन बी काम्प्लेक्स भी मौजूद होता है। विटामिन बी काम्प्लेक्स की पूर्ति होने पर मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।

अमरुद के पत्ते (Guava leaves)

अमरुद के पत्तों में सोडियम, पोटैशियम के अलावा विटामिन सी और विटामिन ब6 भरपूर पाए जाते हैं। अमरुद के पत्तों को चबाने से छालों को खत्म करने में मदद मिलती है।

पान के पत्तों का इस्तेमाल - मुंह के छालों को दूर करने के लिए पान के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लियए आप पान के पत्ते में कत्था लगाकर खा लें। इससे जल्द ही मुंह के छाले ठीक होने लगेगें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan