यदि आप जो पढ़ते हैं उसे याद नहीं रख पाते हैं, तो इस उपाय को आजमाएँ: मानसिक स्वास्थ्य

If you can
यदि आप जो पढ़ते हैं उसे याद नहीं रख पाते हैं, तो इस उपाय को आजमाएँ: मानसिक स्वास्थ्य

आज की तेजी से भागती दुनिया में, लोगों पर पुस्तकों, समाचार लेखों और सोशल मीडिया जैसे विभिन्न स्रोतों से सूचनाओं की लगातार बमबारी की जा रही है। हालाँकि, इस सारी जानकारी को बनाए रखना चुनौतीपूर्ण हो सकता है, और बहुत से लोग जो पढ़ते हैं उसे याद रखने में खुद को संघर्ष करते हुए पाते हैं। यह निराशाजनक हो सकता है और चिंता भी पैदा कर सकता है, खासकर जब अकादमिक या पेशेवर पढ़ने की बात आती है।

खराब स्मृति प्रतिधारण के मुद्दे को हल करने में पहला कदम यह समझना है कि ऐसा क्यों होता है। इसके कई कारण हैं, जिनमें फोकस की कमी, संज्ञानात्मक अधिभार और चिंता शामिल हैं। पढ़ते समय, बाहरी कारकों, जैसे शोर या अन्य लोगों से विचलित होना और सामग्री पर ध्यान केंद्रित करना आसान होता है।

youtube-cover

इसके अतिरिक्त, जटिल सामग्री को पढ़ने पर संज्ञानात्मक अधिभार हो सकता है, जिससे मस्तिष्क बंद हो जाता है और नई जानकारी को संसाधित करना बंद कर देता है। अंत में, चिंता स्मृति प्रतिधारण को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती है, क्योंकि चिंता और तनाव कार्य पर ध्यान केंद्रित करना मुश्किल बना सकते हैं।

तो, पढ़ने के दौरान स्मृति प्रतिधारण में सुधार के लिए क्या किया जा सकता है?

यहां कुछ सलाह हैं:

एक अनुकूल वातावरण बनाएँ: पढ़ने के लिए एक शांत, व्याकुलता-मुक्त स्थान ढूँढ़ें। ऐसे किसी भी डिवाइस को बंद कर दें जो आपके फोकस को बाधित कर सकता है, जैसे फोन या टीवी। यह आपको हाथ में सामग्री पर पूरी तरह से ध्यान केंद्रित करने की अनुमति देगा।

ब्रेक लें: बिना ब्रेक के लंबे समय तक पढ़ने से संज्ञानात्मक अधिभार हो सकता है। हर 30 मिनट में छोटा ब्रेक लेने से आपके दिमाग को तरोताजा करने और मेमोरी रिटेंशन में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

सक्रिय पठन तकनीकों का उपयोग करें: सक्रिय पठन में नोट्स लेकर, सारांश बनाकर और प्रश्न पूछकर सामग्री के साथ जुड़ना शामिल है। यह पैसिव रीडिंग की तुलना में सूचनाओं को बेहतर तरीके से प्रोसेस करने और बनाए रखने में मदद करता है।

youtube-cover

विज़ुअलाइज़ेशन: विज़ुअलाइज़ेशन मेमोरी रिटेंशन के लिए एक शक्तिशाली उपकरण है। आप जो पढ़ रहे हैं उसकी मानसिक छवियां बनाने की कोशिश करें ताकि जानकारी आपके दिमाग में बनी रहे।

किसी और को सिखाएं: आपने जो सीखा है उसे किसी और को सिखाने का कार्य आपके दिमाग में जानकारी को मजबूत करने में मदद कर सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इसके लिए आपको सामग्री को इस तरह से याद करने और समझाने की आवश्यकता है जो किसी और को समझ में आए।

दोहराना: दोहराव स्मृति प्रतिधारण की कुंजी है। सामग्री को दोबारा पढ़ने या नोट्स की समीक्षा करने से आपके दिमाग में जानकारी को मजबूत करने में मदद मिल सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now