Create
Notifications

पान के पत्ते के औषधीय उपयोग : Paan Ke Patte Ke Aushadhi Upyog

पान के पत्ते के औषधीय उपयोग (फोटो - sportskeeda hindi)
पान के पत्ते के औषधीय उपयोग (फोटो - sportskeeda hindi)
Naina Chauhan
visit

पान के बारे में (About Betel Leaf or Paan) तो सभी जानते होंगे। क्या कभी आपने पान के पत्तों को सेहत सम्बन्धी किसी दिक्कत को दूर करने के लिए इस्तेमाल (Used to overcome a problem) किया है? पुराने जमाने में होठों को लाल करने के लिए पान के पत्तों का इस्तेमाल किया जाता था। पान के पत्ते से सर्दी-जुकाम और फेफड़ों से संबंधित बीमारी ठीक की जा सकती है। जानते हैं इसके औषधीय गुण।

पान के पत्ते के औषधीय उपयोग : Paan Ke Patte Ke Aushadhi Upyog In Hindi

सांस से संबंधी समस्या - सर्दी, बुखार जैसी समस्याओं को ठीक करने के लिए पान के पत्ते बेहद फायदेमंद साबित होते हैं। छाती में जकड़न और फेफड़ों की समस्या में पान के पत्तों का सेवन करना चाहिए। इनके सेवन से धीरे- धीरे शरीर का उपचार होने लगता है। यदि ठीक से सांस नहीं ले पा रहे हैं तो गर्म पानी में पान के पत्तों के साथ लौंग और इलायची को उबालते रहें जब पानी आधा हो जाए तो इस पानी का सेवन करें।

सर्दी-जुकाम से राहत मिलती है - पान के पत्तों से डंठल को अलग कर लें। फिर इन डंठलों को पत्थर पर घिस लें और इसमें थोड़ा सा शहद मिला कर इसका सेवन करें। इससे सर्दी-ज़ुकाम के साथ कफ में भी आराम मिलता है।

ब्रेस्ट स्वेलिंग को दूर करता है - अगर किसी महिला के ब्रेस्ट में स्वेलिंग आ रखी है और इसकी वजह से वह अपने नवजात शिशु को दूध नहीं पिला पा रही, तो इस स्वेलिंग को दूर करने के लिए पान के पत्तों को हल्का गर्म करके ब्रेस्ट पर बांध सकते हैं। इसे बांधने से स्वेलिंग कम होती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now