पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीने के फायदे

पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)
पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)

पत्थरचट्टा का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके सेवन से शरीर की कई समस्या को दूर किया जा सकता है। लोग अक्सर इसके पत्तों का उपयोग करते हैं, लेकिन आपको बता दें, पत्थरचट्टा की पत्तियों के अलावा इसके फूल और जड़ों का इस्तेमाल भी बहुत फायदेमंद माना जाता है। पत्थरचट्टा के फूल से बना काढ़ा कई बीमारियों और समस्याओं में फायदेमंद होता है। तो चलिए जानते हैं पत्थरचट्टा के फूल से बने काढ़ा (Patharchatta Flower Kadha) का सेवन करने से क्या फायजे मिलते हैं।

youtube-cover

पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीने के फायदे : Patharchatta Ke Phool Ka Kadha Pine Ke Fayde In Hindi

माइग्रेन की समस्या में - अगर किसी व्यक्ति को माइग्रेन की समस्या है तो उसके लिए पत्थरचट्टा के फूल का काढ़ा पीना बहुत फायदेमंद हो सकता है। इसमें मौजूद गुण माइग्रेन की समस्या में दर्द कम करने और इस बीमारी के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते है। पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा रोजाना सुबह के समय पीना चाहिए। इससे आपको माइग्रेन में फायदा मिलेगा।

पेशाब से जुड़ी परेशानियों में फायदेमंद - पेशाब में जलन की समस्या में पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीने से फायदा मिलता है। आप पत्थरचट्टा केफूलों का काढ़ा बनाने के लिए इसके कुछ फूलों को लें और फिर इसे एक गिलास पानी में डालकर अच्छी तरह उबालें। उबालने के बाद इस काढ़े को छानकर रोजाना सुबह इसका सेवन करें।

किडनी के लिए - शरीर के अहम हिस्से में से एक किडनी है। ऐसे में किडनी को साफ रखने और विषाक्त पदार्थों को दूर करने के लिए पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीना बहुत फायदेमंद होता है। बता दें, पत्थरचट्टा के फूलों में मौजूद गुण शरीर को विषाक्त पदार्थों से मुक्त करने में फायदेमंद माने जाते हैं। इसलिए किडनी को साफ रखने और किडनी की पथरी के जोखिम को कम करने में भी पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीना फायदेमंद माना जाता है।

यूटीआई की समस्या में लाभकारी - अगर किसी को यूटीआई की समस्या हो रखी है तो ऐसे में उसके लिए भी पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीना फायदेमंद माना जाता है। इस समस्या को दूर करने के लिए रोजाना सुबह के समय पत्थरचट्टा के फूलों का काढ़ा पीना उपयोगी होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan