Create

PCOD का घरेलू इलाज : PCOD Home Remedy

Polycystic Ovarian Disease का घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
Polycystic Ovarian Disease का घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

महिलाओं की उम्र के रूप में, विभिन्न आनुवंशिक और हार्मोनल विकार (Hormonal imbalnace) उनके जीवन और स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं। ऐसा ही एक हार्मोनल असंतुलन संबंधी विकार जो महिलाओं को प्रभावित करता है, वह है Polycystic Ovarian Disease (PCOD)। इस सिंड्रोम में, प्रजनन हार्मोन के असंतुलन के कारण द्रव से भरे सिस्ट अंडाशय को भर देते हैं। अंडाशय बढ़ जाते हैं और सामान्य रूप से काम करना बंद कर देते हैं।

सौभाग्य से, पॉलीसिस्टिक ओवरीज़ के लिए घरेलू उपचार हैं जो चिकित्सा उपचार की प्रतीक्षा करते समय या यदि आप चीजों को स्वाभाविक रूप से संभालना चाहते हैं तो इस स्थिति को प्रबंधित करने में आपकी सहायता कर सकते हैं। आप वैकल्पिक रूप से दोनों दुनिया में सर्वश्रेष्ठ पाने के लिए निर्धारित उपचारों के साथ कुछ घरेलू उपचारों का उपयोग कर सकते हैं।

PCOD का घरेलू इलाज : PCOD Home Remedy In Hindi

1. विटामिन (Vitamins)

PCOD से पीड़ित लगभग 65-85% महिलाओं में विटामिन D की कमी होती है। विटामिन D (मैग्नीशियम और कैल्शियम) के साथ पूरक मेटाबोलिज्म और रिप्रोडक्टिव प्रक्रियाओं को नियंत्रित कर सकता है और मासिक धर्म की नियमितता और ओव्यूलेशन को फिर से स्थापित करने में मदद कर सकता है।

2. मिनरल (Mineral)

ब्लड शुगर नियंत्रण और इंसुलिन प्रतिरोध को दूर करने के लिए मैग्नीशियम महत्वपूर्ण है। लेकिन बहुत अधिक कैल्शियम न लें, जो मैग्नीशियम के प्रभाव को बेअसर कर सकता है।

3. एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar)

नियमित रूप से सेवन करने पर ACV एक एंटी ग्लाइसेमिक प्रभाव डालता है। शरीर में इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित किया जाता है, और यह पकस/PCOD के लक्षणों को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।

4. ईवनिंग प्रिमरोज़ तेल (Evening Primrose Oil)

ईवनिंग प्रिमरोज़ PCOD के लिए उपयोगी है क्योंकि यह शरीर में उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। यह मेटाबॉलिक फंक्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है। यह PCOD के साथ विटामिन D की कमी वाली महिलाओं में इंसुलिन प्रतिरोध में सुधार करने में भी मदद करता है।

5. ग्रीन टी (Green Tea)

ग्रीन टी में मौजूद शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट, कैटेचिन नामक हार्मोन के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं जो ओवेरियन सिस्ट और संबंधित लक्षणों का कारण बनते हैं। वे इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद करते हैं।

6. आंवला जूस (Amla Juice)

आंवला एक अद्भुत विषहरण और कोलेस्ट्रॉल कम करने वाला एजेंट है। यह एंटीऑक्सिडेंट और विरोधी भड़काऊ प्रभाव प्रदर्शित करता है। इसलिए, यह शरीर में हार्मोनल संतुलन को बहाल करने और पीसीओएस के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है।

7. जीरे वाला पानी (Cumin seeds)

जीरा ब्लड शुगर के स्तर को कम करता है और वजन घटाने में सहायता कर सकता है। ये गुण PCOD के लक्षणों का इलाज करने में मदद कर सकते हैं।

8. बीज (Seeds)

PCOD में मदद के लिए अलसी के बीज, चिया के बीज, मेथी के बीज, सौंफ के बीज, कद्दू के बीज, तिल के बीज जैसे बीज उपयोगी होते हैं।

9. दालचीनी और शहद (Cinnamon And Honey)

दालचीनी और शहद मेंस्ट्रुअल साइकिल में सुधार कर सकती है और PCOD के लिए एक प्रभावी उपचार विकल्प हो सकता है।

10. लीकोरिस रूट (Licorice Root)

हार्मोनल संतुलन और अनियमित ओवेरियन के रोम (irregular ovarian follicles) को विनियमित करके PCOD के लिए लिकोरिस रुट एक संभावित उपचार हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...