Create

पेट के बल सोने की आदत हो सकती है खतरनाक साबित-Pet Ke Bal Sone Ki Aadat Ho Sakti Hai Khatarnak Sabit

पेट के बल सोने की आदत हो सकती है खतरनाक साबित(फोटो-Sportskeeda hindi)
पेट के बल सोने की आदत हो सकती है खतरनाक साबित(फोटो-Sportskeeda hindi)
reaction-emoji
Rakshita Srivastava

एक अच्छे स्वास्थ्य के लिए भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी होता है। ये तो सभी कोई जानता है, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि भरपूर नींद लेने के साथ-साथ सही तरीके से सोना भी उतना ही जरूरी होता है। जी हां अगर आप सही तरीके के नहीं सोते हैं, तो इसका असर आपके स्वास्थ्य पर काफी बुरा पड़ता है। बता दें कि सोने का सबसे सही तरीका बांयी (Left) करवट होता है। लेकिन अगर आप पेट के बल सोते हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है। पेट के बल सोने की आदत की वजह से आपको कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। जानिए पेट के बल सोने से क्या-क्या दिक्कते हो सकती है।

पेट के बल सोने की आदत हो सकती है खतरनाक साबित (Pet Ke Bal Sone Ki Aadat Ho Sakti Hai Khatarnak Sabit In Hindi)

पेट से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती है

पेट के बल सोने वाले लोगों को अक्सर पेट से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि पेट के बल सोने से पेट पर पूरा दबाव पड़ता है, जिसकी वजह से पाचन तंत्र (Digestion) सही नहीं रहता है। साथ ही पेट दर्द की शिकायत भी बनी रहती है।

ब्रेस्ट में दर्द की शिकायत हो सकती है

महिलाओं के लिए पेट के बल सोना काफी हानिकारक माना जाता है। क्योंकि अगर महिलाएं पेट के बल सोती हैं, तो इससे ब्रेस्ट में दर्द (Breast Pain) की शिकायत हो सकती है। क्योंकि पेट के बल सोने से ब्रेस्ट पर दबाव पड़ता है।

सिर दर्द की शिकायत हो सकती है

पेट के बल सोने वाले लोगों में अक्सर सुबह सिर दर्द (Headache) की शिकायत होती है। क्योंकि जब हम पेट के बल सोते हैं, तो तकिए पर सिर रखते हैं तो हमारी गर्दन नीचे की तरफ मुड़ जाती है। जिसकी वजह मस्तिष्क में ब्लड सर्कुलेशन सही तरह से नहीं होता है।

कमर दर्द की शिकायत हो सकती है

पेट के बल सोने वाले लोगों में कमर में दर्द (Back Pain) की शिकायत शुरू हो जाती है। क्योंकि पेट के बल सोने से हमारी रीढ़ की हड्डी अपनी सही शेप में नहीं रह पाती है। रीढ़ की हड्डी गलत शेप में रहने की वजह से कमर दर्द की समस्या हो जाती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...