Create

पुरानी खांसी होने पर करें इन 5 फूड्स का सेवन

पुरानी खांसी होने पर करें इन 5 फूड्स का सेवन (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
पुरानी खांसी होने पर करें इन 5 फूड्स का सेवन (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

खांसी (cough) एक शरीर की प्राकृतिक प्रतिक्रिया है जो आपके गले को बलगम या जलन से साफ करती है और यह तब भी हो सकती है जब कुछ भोजन आपके वायुमार्ग को अवरुद्ध कर देता है। खांसी तीव्र या पुरानी हो सकती है। तीव्र खांसी तीन सप्ताह से कम समय तक रहती है, और पुरानी खांसी आठ सप्ताह से अधिक समय तक रहती है। आप कुछ घरेलू उपाय अपना कर इससे आराम पा सकते हैं। यह लेख आपको कुछ फूड्स के बारे में बताने जा रहा है जिनका सेवन आप खांसी होने पर कर सकते हैं।

पुरानी खांसी होने पर करें इन 5 फूड्स का सेवन - Purani Khansi Hone Par Kare In Foods Ka Sevan In Hindi

1. अदरक (Ginger tea for cough)

अदरक खांसी के लिए एक लोकप्रिय घरेलू उपचार है और एक एंटी-इंफ्लेमेटरी के रूप में कार्य करती है। एक कप गर्म अदरक की चाय (ginger tea) आपकी कष्टप्रद खांसी और गले की खराश को कम कर सकती है। अदरक में कुछ यौगिक होते हैं जो फेफड़ों की रक्त वाहिकाओं (blood vessels) को फैलाते हैं और चिकनी मांसपेशियों को आराम देते हैं जिससे वायुमार्ग खुल जाता है। खांसी से राहत के लिए आप गर्म चाय में ताजा अदरक या ताजा कद्दूकस किया हुआ अदरक उपयोग कर सकते हैं।

2. लहसुन (Garlic)

लहसुन आपको सर्दी और फ्लू से लड़ने में मदद कर सकता है। यह तेजी से ठीक होने के साथ-साथ अन्य स्वास्थ्य लाभ भी सुनिश्चित करता है। लहसुन उन यौगिकों से भरपूर होता है जो प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं, इसमें औषधीय गुण होते हैं और पुरानी खांसी से बचाव के लिए आप इन्हें अपने दैनिक आहार का हिस्सा बना सकते हैं।

3. हल्दी (Turmeric)

हल्दी वाला दूध भारत में लगभग हर बीमारी के लिए प्रसिद्ध घरेलू उपचारों में से एक है। यह गले में खराश और खांसी के लिए एक शक्तिशाली घरेलू उपचार है। हल्दी में करक्यूमिन (curcumin) होने के कारण यह फायदेमंद होता है। करक्यूमिन हल्दी को एक पीला रंग देता है और सूजन-रोधी गुण प्रदान करता है। हल्दी आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली और संक्रमण के खिलाफ सक्रिय एंटीबॉडी (antibody) प्रतिक्रिया को बढ़ाती है। खांसी से जल्दी राहत पाने के लिए हल्दी में थोड़ी सी काली मिर्च मिलाएं।

4. गर्म चाय (Hot tea)

खांसी या जुकाम होने पर गर्म चाय (गरी, काली या आम दूध वाली) सबसे अच्छी होती है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर चाय आपके गले की खराश को शांत करती है और आपकी बंद (congested) नाक से बलगम को बाहर निकालती है जो नाक के मार्ग को साफ करने में मदद करता है। आपके पास कैमोमाइल टी (chamomile tea) भी हो सकती है, इसमें जीवाणुरोधी और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। कैमोमाइल टी नींद को बढ़ावा देती है और आपकी प्रतिरक्षा की रक्षा करने में मदद करती है।

5. अनानस (Pineapple)

यह आपके लिए आश्चर्य की बात होगी, लेकिन अनानास भी पुरानी खांसी में सहायता के लिए जाना जाता है। ब्रोमेलैन (Bromelain) अनानास में पाया जाने वाला एक एंजाइम है जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी (anti-inflammatory) और म्यूकोलिटिक (mucolytic) गुण होते हैं। ब्रोमेलैन की ये दो विशेषताएं अनानास को खांसी से राहत दिलाने में मदद करने के लिए एक उत्कृष्ट फ़ूड बनाती हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...