सिर की त्वचा पर लाली? इन घरेलू उपायों को आजमाएं!

Redness On Scalp? try these home remedies!
सिर की त्वचा पर लाली? इन घरेलू उपायों को आजमाएं!

सिर की त्वचा पर लालिमा एक आम समस्या हो सकती है जो असुविधा का कारण बन सकती है। यह विभिन्न कारकों के कारण हो सकता है, जैसे शुष्क त्वचा, जिल्द की सूजन, या एलर्जी भी! यदि आप अपने सिर पर लालिमा का अनुभव कर रहे हैं, तो आपको यह जानकर खुशी होगी कि कई सरल और प्रभावी घरेलू उपचार हैं जो इस स्थिति को शांत करने और कम करने में मदद कर सकते हैं।

इसलिए आज हम कुछ आसान उपायों के बारे में आपको बताएंगे जिन्हें आप अपने सिर की त्वचा की लालिमा को कम करने के लिए घर पर ही आज़मा सकते हैं।

नारियल का तेल:

नारियल का तेल अपने मॉइस्चराइजिंग और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के लिए जाना जाता है, जो इसे सर पर लालिमा के लिए एक उत्कृष्ट उपाय बनाता है। अपने स्कैल्प पर हल्के गर्म नारियल तेल की मालिश करें और इसे धोने से पहले लगभग 30 मिनट तक लगा रहने दें। यह आपके स्कैल्प को हाइड्रेट करने, सूजन को कम करने और लालिमा से राहत दिलाने में मदद करेगा।

सेब का सिरका:

सेब का सिरका!
सेब का सिरका!

एप्पल साइडर विनेगर में जीवाणुरोधी और एंटीफंगल गुण होते हैं जो रूसी या फंगल संक्रमण के कारण सर की लालिमा को कम करने में मदद कर सकते हैं। सेब के सिरके को 1:1 के अनुपात में पानी के साथ पतला करें और कॉटन बॉल का उपयोग करके इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं। इसे धोने से पहले 15-20 मिनट तक लगा रहने दें। याद रखें कि बिना पतला सिरका सीधे अपने स्कैल्प पर लगाने से बचें, क्योंकि इससे जलन हो सकती है।

एलोवेरा जेल:

एलोवेरा जेल अपने सुखदायक और उपचार गुणों के लिए जाना जाता है, जो इसे सर की लालिमा के लिए एक प्रभावी उपाय बनाता है। ताजा एलोवेरा जेल को सीधे अपने स्कैल्प पर लगाएं और कुछ मिनट तक धीरे-धीरे मसाज करें। इसे 20-30 मिनट तक लगा रहने दें, फिर गुनगुने पानी से धो लें। लालिमा को कम करने और सर के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में कुछ बार दोहराएं।

चाय के पेड़ का तेल:

चाय के पेड़ का तेल एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक है जो रूसी या फंगल संक्रमण के कारण खोपड़ी की लालिमा से निपटने में मदद कर सकता है। चाय के पेड़ के तेल की कुछ बूंदों को नारियल तेल या जैतून के तेल जैसे वाहक तेल के साथ मिलाएं। इस मिश्रण को अपने स्कैल्प पर लगाएं और धीरे से मालिश करें। इसे धोने से पहले 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। चाय के पेड़ का तेल गुणकारी हो सकता है, इसलिए इसका उपयोग करने से पहले पैच परीक्षण अवश्य कर लें।

ओटमील:

youtube-cover

ओटमील में सूजनरोधी गुण होते हैं और यह सिर की त्वचा पर खुजली और लालिमा से राहत दिला सकता है। ओटमील को बारीक पीसकर पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें। पेस्ट को अपने स्कैल्प पर लगाएं, 20-30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर अच्छी तरह से धो लें। यह उपाय लालिमा को कम करने और चिढ़ खोपड़ी को शांत करने में मदद कर सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now