Create
Notifications

तंबाकू की लत से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं हरी इलायची और सौंफ : Tobacco Ki Lat Se Chutkara Pane Ke Liye Apnaye Hari Elachi Aur Saunf

तंबाकू-सिगरेट की लत से पाना है छुटकारा तो अपनाएं हरी इलायची और सौंफ का ये असरदार नुस्खा (फोटो - sportskeeda hindi)
तंबाकू-सिगरेट की लत से पाना है छुटकारा तो अपनाएं हरी इलायची और सौंफ का ये असरदार नुस्खा (फोटो - sportskeeda hindi)
Naina Chauhan

सिगरेट (cigarette) पीना और तंबाकू (tobacco) का सेवन दोनों ही सेहत के लिए हानिकारक होते हैं। लेकिन फिर भी लोग इसका सेवन करते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसी ही कोई समस्या है तो आप हरी इलायची और सौंफ का सेवन आपको इस परेशानी से छुटकारा दिला सकता है। आइए जानते हैं कैसे आप सिगरेट और तंबाकू की लत से कुछ देसी नुस्खे अपनाकर पीछा छुड़ा सकते हैं।

तंबाकू की लत से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं हरी इलायची और सौंफ

हरी इलायची और सौंफ का नुस्खा - इलायची में अल्फा-टेरपिनॉल, लाइमोनीन, मायकेनिन और मेंथोफोन जैसे गुण मौजूद होते हैं। वहीं बात अगर आयुर्वेद की करें तो इसका इस्तेमाल कई रोग ठीक करने के लिए किया जाता है। इतना ही नहीं इसके इस्तेमाल से नशे की लत यानी निकोटिन की आदत को भी खत्म किया जा सकता है। सिगरेट की लट को दूर करने के लिए भुनी हुई सौंफ के साथ हरी इलायची को मिलाकर रख लें। इसके बाद जब कभी आपका मन तंबाकू खाने या सिगरेट पीने का करें तो उस समय आप सौंफ और हरी इलायची का सेवन करें। ऐसा लगातार 7 सप्ताह तक फॉलो करें इससे काफी हद तक निकोटिन खाने की इच्छा को कंट्रोल किया जा सकता है।

अजवायन और सौंफ- सिगरेट की लट को दूर करने के लिए अजवायन और सौंफ (saunf) की बराबर मात्रा और इनसे आधी मात्रा में काला नमक लेकर तीनों चीजों को बारीक पीस लें। इसके बाद इस पाउडर में थोड़ा सा नींबू का रस मिलाकर रातभर रख दें। सुबह होने पर इसे गर्म तवे पर हल्का भूनकर एक एयर टाइट कंटेनर में बंद कर दें। इसके बाद जब भी आपको सिगरेट पीने का मन करें तो इस चूर्ण को चूस लें। इससे सिगरेट की लत छूट जाएगी।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan

Comments

Fetching more content...