Create

ग्लूकोज कब पीना चाहिए, जानें फायदे- Glucose Kab Pina Chaiye, Jane Fayde

ग्लूकोज कब पीना चाहिए, जानें फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
ग्लूकोज कब पीना चाहिए, जानें फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

गर्मी के मौसम में ग्लूकोज (glucose) का सेवन ज्यादातर लोग करते हैं, क्योंकि गर्मी के मौसम में ग्लूकोज का सेवन करने से डिहाइड्रेशन की शिकायत नहीं होती है। साथ ही अगर किसी को कमजोरी की शिकायत होती है, तो भी लोग ग्लूकोज का सेवन करते हैं। क्योंकि इसका सेवन करने से शरीर में एनर्जी लेवल बढ़ जाता है। लेकिन ग्लूकोज का सेवन आपके लिए तभी फायदेमंद साबित होता है। जब आप उसका सेवन सही समय पर करते हैं। अगर आप गलत समय पर ग्लूकोज का सेवन करते हैं, तो इससे आपको फायदे की जगह नुकसान पहुंच सकता है। तो आइए जानते हैं ग्लूकोज कब पीना चाहिए।

ग्लूकोज कब पीना चाहिए, जानें फायदे

ग्लूकोज कब पीना चाहिए

ग्लूकोज का सेवन दिनभर में एक बार करना चाहिए। लेकिन ग्लूकोज का सेवन सुबह के समय ही करना चाहिए। क्योंकि दोपहर के बाद अगर आप ग्लूकोज का सेवन करते हैं, तो इससे स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है। आइए जानते हैं ग्लूकोज पीने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

ग्लूकोज पीने के फायदे

1- गर्मी के मौसम में अधिक पसीना निकलने के कारण डिहाइड्रेशन (Dehydration) की शिकायत हो जाती है। लेकिन अगर आप गर्मी के मौसम में एक गिलास ग्लूकोज का सेवन करते हैं, तो इससे शरीर हाइड्रेट रहता है। साथ ही शरीर को ठंडक भी पहुंचती है।

2- शरीर में एनर्जी (Energy) की कमी महसूस होने पर ग्लूकोज का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप एक गिलास ग्लूकोज का सेवन करते हैं, तो इससे शरीर में एनर्जी बनी रहती है।

3- जिन लोगों की इम्यूनिटी (Immunity) कमजोर होती है, वो आसानी से किसी भी बीमारी की चपेट में आ जाते हैं, लेकिन अगर आप ग्लूकोज का सेवन करते हैं, तो इससे इम्यूनिटी मजबूत होती है, जिससे आपका शरीर वायरस और बैक्टीरिया की चपेट में आने से बच सकता है।

4- शरीर में ग्लाइकोजन की मात्रा अधिक होने पर जल्दी थकान महसूस नहीं होती है, इसलिए अगर आप ग्लूकोज का सेवन करते हैं, तो इससे स्टेमिना बढ़ती है। जिससे हमारी मांसपेशियां जल्दी कमजोर नहीं पड़ती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...