गिलोय के सेवन का सही तरीका और 10 फायदे

गिलोय के सेवन का सही तरीका और 10 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
गिलोय के सेवन का सही तरीका और 10 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

गिलोय (Tinospora cordifolia), जिसे अमृत वल्ली भी कहा जाता है, एक औषधीय पौधा है जिसे आयुर्वेदिक चिकित्सा में व्यापक रूप से प्रयोग किया जाता है। गिलोय के सेवन का सही तरीका और इसके फायदे कुछ इस प्रकार हैं:-

गिलोय के सेवन का सही तरीका और 10 फायदे (Right Way and 10 Benefits Of Consuming Giloy In Hindi)

गिलोय के सेवन का सही तरीका

गिलोय का रस: गिलोय का सबसे प्रमुख रूप है इसका रस (juice)। गिलोय की डालों को पीसकर रस निकालें और इसे एक चमच या दो के बराबर मात्रा में पानी के साथ सेवन करें।

गिलोय का पाउडर: गिलोय की सूखी डालों को पीसकर पाउडर बना सकते हैं। इस पाउडर को पानी के साथ या शहद के साथ मिलाकर सेवन करें।

गिलोय की चूर्ण: यदि आपको गिलोय की सूखी डालों की चूर्ण मिल जाती है, तो आप इसे गर्म पानी के साथ ले सकते हैं।

गिलोय का अर्क: गिलोय का अर्क (extract) भी उपलब्ध होता है, जिसे आप चिकित्सक की सलाह पर सेवन कर सकते हैं।

गिलोय के फायदे

इम्यून सिस्टम को मजबूत करना: गिलोय इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करता है और विभिन्न प्रकार की इंफेक्शन से लड़ने की क्षमता को बढ़ावा देता है।

आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखना: गिलोय का सेवन आंखों के स्वास्थ्य को सुधार सकता है और आंखों की समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है।

शरीर को ठंडक प्रदान करना: गिलोय का सेवन शरीर को ठंडक प्रदान कर सकता है और बुखार और तापमान को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।

डायबिटीज को नियंत्रित करना: गिलोय के नियमित सेवन से डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखना: गिलोय हृदय स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकता है और हृदय संबंधित समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है।

पाचन सिस्टम को सुधारना: गिलोय पाचन सिस्टम को सुधारने में मदद कर सकता है और अपच और गैस की समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है।

कैंसर से लड़ाई: कुछ अध्ययनों की मानी जाए तो गिलोय के सेवन से कैंसर के खिलाफ लड़ाई में मदद मिल सकती है।

त्वचा के स्वास्थ्य को बनाए रखना: गिलोय का सेवन त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखने में मदद कर सकता है और त्वचा की समस्याओं को कम कर सकता है।

वायरल इन्फेक्शन से बचाव: गिलोय के सेवन से वायरल इन्फेक्शन से बचाव में मदद मिल सकती है।

मानसिक स्वास्थ्य को सुधारना: गिलोय का सेवन मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकता है और तनाव और अवसाद को कम कर सकता है।

सावधानियां

1. गिलोय का सेवन किसी भी रूप में डॉक्टर की सलाह पर करें, खासकर गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान।

2. गिलोय के सेवन की मात्रा को ध्यान से बरतें, क्योंकि अधिक मात्रा में सेवन से साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

3. गिलोय के सेवन से पहले जरूरत से पूर्व जाँच करें और अपने स्वास्थ्य पर इसका प्रभाव देखें।

गिलोय का सेवन आयुर्वेदिक चिकित्सा में बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है और यह स्वास्थ्य के लिए अनेक फायदे प्रदान कर सकता है, लेकिन इसका सेवन ध्यानपूर्वक और समय-समय पर करना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now