Create

सफेद दाग के 7 घरेलू इलाज : Safed Daag Ke 7 Gharelu Ilaj

सफेद दाग का 7 घरेलू इलाज (फोटो - web dunia)
सफेद दाग का 7 घरेलू इलाज (फोटो - web dunia)

शरीर पर सफेद दाग होना एक तरह का त्वचा रोग होता है, जो किसी एलर्जी या त्वचा की समस्या के कारण होता है। कई बार ये जेनेटिक भी होता हे। इसे ठीक करने के लिए व्यक्ति को काफी धैर्य की जरूरत होती है। इसलिए डॉक्टर को दिखाने के साथ-साथ कुछ घरेलू उपायों से इस प्रॉब्लम को जल्द दूर किया जा सकता है। जानते हैं सफेद दाग (Home remedies for leucoderma In Hindi) को दूर करने के लिए घरेलू नुस्खों के बारे में

सफेद दाग के 7 घरेलू इलाज : Safed Daag Ke 7 Gharelu Ilaj In Hindi

बथुआ - जिन लोगों को सफेद दाग ( cure leucoderma in hindi ) हो उन लोगों को ज्यादा से ज्यादा अपने खाने में बथुआ शामिल करना चाहिए। इसके लिए रोज बथुआ उबाल कर उसके पानी से शरीर के सफेद दाग को धोएं।

अखरोट - अखरोट सफेद दाग (walnut for Safed Daag ) में काफी फायदेमंद है। इसके लिए रोज अखरोट खाएं। इसके सेवन से सफेद पड़ चुकी त्वचा को काली करने में मदद मिलती है।

अदरक - सफेद दाग की समस्या होने पर रोजाना अदरक का जूस पिएं और अदरक के एक टुकड़े को खाली पेट चबाएं। साथ ही अदरक को पीसकर सफेद त्वचा पर लगाएं, लाभ मिलेगा।

ऐलोवेरा जेल - ऐलोवेरा की पत्तियों के अंदर के जेल को निकालकर सफेद दाग वाले हिस्से पर लगाएं और अच्छे से मसाज करें। सफेद दाग (aloe vera benefits in leucoderma) की समस्या को दूर करने के लिए ऐलोवेरा जूस पीना भी फायदेमंद होता है।

सरसों तेल - सरसों तेल का उपयोग स्किन से लेकर बालों तक के लिए फायदेमंद है। वहीं अगर किसी को सफेद दाग की समस्या है तो, ऐसे में सरसों तेल में हल्दी पाउडर मिलाकर उसे सफेद दाग पर लगाएं।

छाछ - व्यक्ति को फिट रहने के लिए अपनी डाइट में हेल्दी चीजों को शामिल करना चाहिए। लिक्विड चीजों का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें और छाछ पीने से सफेद दाग की समस्या दूर हो जाती है।

शरीर को साफ रखें - कई बार लोग अपने यूरिन को देर तक रोक कर रखते हैं, जो कि शरीर के लिए बहुत गलत है। इससे शरीर के अंदर गंदे पदार्थों का जमावड़ा बन जाता है जिससे शरीर को नुकसान होता है। इसलिए हमेशा शरीर के विषैले तत्व को बाहर निकालें और शरीर को शुद्ध रखें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment