Create

सरसों के तेल से कुल्ला करने के फायदे- Sarso Ke Tel Se Kulla Karne Ke Fayde

सरसों के तेल से कुल्ला करने के फायदे(फोटो-myupchar)
सरसों के तेल से कुल्ला करने के फायदे(फोटो-myupchar)

उत्तर भारत में सरसों का तेल (Mustard oil) सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है. सरसों के तेल का इस्तेमाल कई चीजों को बनाने के लिए किया जाता है। साथ ही शरीर की मालिश में सरसों का तेल काफी फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं सरसों के तेल से कुल्ला (Oil Pulling) करने से सेहत को कितने लाभ पहुंचते हैं। सरसों के तेल का कुल्ला करना स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। जानिए सरसों के तेल से कुल्ला करने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

सरसों के तेल से कुल्ला करने के फायदे (Sarso Ke Tel Se Kulla Karne Ke Fayde In Hindi)

दांत होते हैं मजबूत

सरसों के तेल का कुल्ला करने से दांत मजबूत होते हैं। जिनके दांत कमजोर होते हैं या मसूड़ो में सूजन की समस्या होती है। उनको सरसों के तेल से कुल्ला करना चाहिए। इससे दांत मजबूत (Strong teeth) होते हैं। साथ ही सूजन की समस्या में भी आराम मिलता है।

पेट में कीड़े की समस्या होती है खत्म

सरसों के तेल से कुल्ला करने से पेट के कीड़े भी मरते हैं। इसलिए जिनके पेट में कीड़े की समस्या होती है उनको सरसों के तेल का कुल्ला करना चाहिए।

मुंह के छाले होते हैं ठीक

जिन लोगों को मुंह में बार-बार छाले (Mouth ulcer) होने की शिकायत होती है। उनको सरसों के तेल से कुल्ला करना चाहिए। सरसों का तेल मुंह के सभी बैक्टीरिया को मार देता है। जिससे छाले की समस्या से छुटकारा मिल जाता है।

गले में खराश की शिकायत होती है दूर

सरसों के तेल से कुल्ला करने से गले में खराश की समस्या भी खत्म हो जाती है। साथ ही सरसों का तेल सर्दी-जुकाम में भी फायदेमंद माना जाता है।

सिर दर्द में मिलता है आराम

सरसों के तेल से कुल्ला करने से सिरदर्द ,माइग्रेन (Migraine)और स्ट्रेस (Stress) से होने वाले सिर दर्द में भी काफी आराम मिलता है।

साइनस में फायदेमंद

अगर किसी को साइनस की समस्या हो तो उसको रोजाना एक बार सरसों के तेल से कुल्ला करना चाहिए। ऐसा करने से साइनस की बीमारी धीर-धीरे खत्म हो जाती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
1 comment