दूध में सौंफ और अदरक पीने के 5 फायदे

दूध में सौंफ और अदरक पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)
दूध में सौंफ और अदरक पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)

सौंफ और अदरक का सेवन अक्सर लोग रोजाना ही करते हैं, लेकिन अगर इन दोनों को दूध के साथ उबालकर इस्तेमाल किया जाए तो इसका लाभ बढ़ जाता है। आपको बता दें, दूध प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन बी जैसे जरूरी पोषक तत्वों का एक बेहतरीन स्रोत है। वहीं सौंफ और अदरक भी औषधीय गुणों से भरपूर होती हैं। साथ ही दोनों में विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। जानते हैं दूध में सौंफ और अदरक पीने के फायदे saunf aur adrak dudh ke fayde.

youtube-cover

दूध में सौंफ और अदरक पीने के फायदे : Saunf And Ginger Milk Benefits In Hindi

हड्डियां मजबूत होती हैं - आपको बता दें, इन सभी चीजों में कैल्शियम, प्रोटीन और कई अन्य जरूरी पोषक तत्वों भरपूर रूप से पाया जाता है, जो आपकी हड्डियों और जोड़ों को मजबूत बनाने के लिए बहुत लाभकारी है। दूध के साथ सौंफ और अदरक का सेवन हड्डियों में फ्रैक्चर bone fracture के जोखिम को कम करने और जोड़ों के दर्द से राहत प्रदान करने में भी मददगार है।

हाई बीपी को करे कम - कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम हाई ब्लड प्रेशर को कम करने और कंट्रोल रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। यह कॉम्बिनेशन न सिर्फ हाई बीपी को कम करने में मददगार है, बल्कि ब्लड प्रेशर के प्रबंधन में भी मददगार है।

हार्ट को रखे हेल्दी - अगर आप नियमित रूप से सौंफ और अदरक को दूध में उबालकर पीते हैं, तो यह खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है।

अच्छी नींद आती है - अगर आप रात में सोने से पहले दूध में सौंफ और अदरक उबालकर इसका सेवन करते हैं, तो इससे आपका मस्तिष्क शांत रहता है और थकान दूर होती है। इसके साथ ही यह तनाव को कम करने में भी मदद करता है। इससे आपको जल्दी और अच्छी नींद आती है।

पेट की समस्याओं को दूर रखता है - अगर किसी के पेट में गैस Gas, सूजन, कब्ज, ब्लोटिंग और अपच जैसी समस्या हो रही है तो ऐसे में इसे दूर रखने के लिए यह कॉम्बिनेशन बहुत लाभकारी है। यह आपके पाचन को मजबूत बनाता है और मेटाबॉलिज्म metabolism को भी तेज करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan