Create

सौंफ खाने के 6 फायदे

सौंफ खाने के 6 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
सौंफ खाने के 6 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

सौंफ के बीज (Fennel seeds) सौंफ के पौधों से निकाले जाते हैं। इनमें विटामिन K, विटामिन E, मैंगनीज, कॉपर, जिंक और फास्फोरस जैसे कई पोषक तत्व होते हैं और विटामिन C का एक अच्छा स्रोत हैं। सौंफ के बीज बाहर से कुरकुरे और हल्के मीठे स्वाद के होते हैं। इनका व्यापक रूप से माउथ फ्रेशनर के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। यह लेख सौंफ खाने के फायदे बताने जा रहे हैं।

सौंफ खाने के 6 फायदे - Saunf Khane Ke Fayde In Hindi

1. रक्तचाप को नियंत्रित करे (Regulate Blood Pressure)

सौंफ को चबाने से लार में नाइट्राइट (nitrite) के स्तर को बढ़ाने में मदद मिलती है। नाइट्राइट एक प्राकृतिक तत्व है जो रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित रखता है। सौंफ में पोटैशियम भी प्रचुर मात्रा में होता है, जो रक्तचाप और हृदय गति को नियंत्रित करने में मदद करता है।

2. रक्त को शुद्ध करे (Purifies Blood)

सौंफ के महत्वपूर्ण फाइबर और एसेंशियल ऑयल हमारे शरीर से गंदगी और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने के लिए अत्यधिक उपयोगी माने जाते हैं, जिससे रक्त को साफ करने में मदद मिलती है। यह शरीर में पोषक तत्वों के इष्टतम अवशोषण में मदद करता है। शोध के अनुसार, सौंफ में मौजूद पॉलीफेनोल (polyphenol) एंटीऑक्सीडेंट में भी एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो विभिन्न बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में मदद करते हैं, जिससे आप विभिन्न बीमारियों से सुरक्षित रहते हैं।

3. पानी प्रतिधारण रोके (Water Retention)

सौंफ की चाय का नियमित सेवन आपके शरीर से अतिरिक्त तरल पदार्थ को बाहर निकालने में मदद करता है। इसलिए सौंफ की चाय मूत्रवर्धक की तरह काम करती है। यह मूत्र पथ के रोगों की संभावना को कम करने और गुर्दे से विषाक्त पदार्थों को निकालने में भी मदद करता है। इसमें डायफोरेटिक (diaphoretic) गुण भी शामिल हैं जो पसीने को उत्तेजित करने में मदद करते हैं।

4. आंखों की रोशनी में सुधार करे (Improve eyesight)

सौंफ को आयुर्वेद में अक्सर 'नेत्र ज्योति' कहा जाता है। नियमित रूप से अपने आहार में 2 बड़े चम्मच सौंफ को शामिल करने से आपकी दृष्टि को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। सौंफ में विटामिन A की उच्च मात्रा होने के कारण, यह आपकी दृष्टि में सुधार करने में मदद करते हैं। प्राचीन काल में लोग ग्लूकोमा से प्रभावित लोगों के इलाज के लिए सौंफ के बीज के अर्क का इस्तेमाल करते थे। सौंफ एंटीऑक्सीडेंट और पोषक तत्वों से भरपूर होती है जो मोतियाबिंद (cataracts) के विकास से बचाती है और स्वस्थ आंखों को बढ़ावा देती है।

5. भूख नियंत्रित करे (Control appetite)

सौंफ की चाय पीने से भूख को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। एक कप सौंफ की चाय पीने से एसेंशियल ऑयल रिलीज होता है, जो भूख को दबाने में मददगार है। कई आहार विशेषज्ञ वजन घटाने के लिए कैलोरी की मात्रा को कम करने के लिए भोजन से पहले सौंफ की चाय का सुझाव देते हैं।

6. लिवर के लिए अच्छा (Good for the Liver)

सौंफ सेलेनियम में समृद्ध है, एक पोषक तत्व जो इसके विषहरण लाभों के लिए जाना जाता है। सौंफ के बीज या सौंफ की चाय लिवर को लाभकारी एंजाइम पैदा करने के लिए प्रेरित करता है जो इसे प्राकृतिक रूप से खुद को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है। सौंफ के एसेंशियल आयल लिवर के लिए अच्छे माने जाते हैं। इसके अलावा, सौंफ के बीज के आवश्यक तेलों के सेवन से AST, ALP, ALT और बिलीरुबिन के स्तर में कमी आ सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...