Create

साइटिका के घरेलू उपचार- Sciatica ke gharelu upchar 

साइटिका के घरेलू उपचार(फोटो- Nari)
साइटिका के घरेलू उपचार(फोटो- Nari)

साइटिका( Sciatica ) की बीमारी आजकल आम हो गई है। लेकिन इस बीमारी को हल्के में नहीं लेना चाहिए। क्योंकि शरीर पर इसके गंभीर प्रभाव भी पड़ सकते है। साइटिका कमर से संबंधित बीमारी है। यह बीमारी रीढ़ की हड्डी (spinal cord) से होते हुए पैर की उगलियों तक पहुंच जाती है। साइटिका होने का मुख्य कारण स्लिप डिस्क(slip disc) और मोटापा है।

साइटिका की बीमारी ज्यादातर शरीर के एक ही हिस्से में होती है। जिससे शरीर में एक ही तरफ दर्द होता है। इस बीमारी की वजह से बैठने में दर्द काफी ज्यादा बढ़ जाता है। साथ ही पैर और कूल्हे के नीचे जलन की समस्या भी होने लगती है। यह बीमारी शरीर के जिस तरफ होती है वह हिस्सा सुन्न पड़ जाता है।

साइटिका के घरेलू उपचार ( Sciatica ke gharelu upchar in hindi)

लहसुन और दूध

साइटिका की बीमारी को खत्म करने के लिए लहसुन और दूध बहुत लाभकारी माने जाते है। इसके लिए लहसुन की 4-5 कलियों को पीस कर गर्म दूध में डाल दीजिए। फिर कुछ देर बाद उसको पी लीजिए। लेकिन इसको रोजाना एक कम से ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए।

मेथी और सोंठ

मेथी का उपयोग घरों में मसाले के रूप में किया जाता है। लेकिन यह साइटिका की बीमारी को खत्म करने में भी मदद करता है। इसके लिए मेथी पाउडर और सोंठ पाउडर को गर्म पानी के साथ दिन में कम से कम दो बार लेना चाहिए।

हल्दी, दालचीनी और शहद

जिन लोगों को साइटिका की शिकायत हो उनको दूध के साथ हल्दी, दालचीनी और शहद मिलाकर पीना चाहिए। साइटिका जैसी बीमारी में यह बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके लिए चुटकी भर हल्दी और थोड़ा सा दालचीनी मिलाकर दूध को उबाल लीजिए। फिर जब दूध थोड़ा ठंडा हो जाए तो उसमें शहद मिलाकर पी लें।

अजवाइन

साइटिका की शिकायत होने पर अजवाइन का सेवन करना चाहिए। अजवाइन का सेवन करने से साइटिका में होने वाली सूजन में काफी आराम मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment