डायबिटीज में लौकी जूस के नुकसान

डायबिटीज में लौकी जूस के नुकसान (sportskeeda Hindi)
डायबिटीज में लौकी जूस के नुकसान (sportskeeda Hindi)

डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी बीमारी बन गई है, जो लोगों को बहुत जल्दी अपनी चपेट में ले लेती है। साथ ही बड़े ही नहीं, बच्चे भी इस बीमारी का शिकार हो रहे हैं। जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या है वो लोग अक्सर लौकी का जूस पीते हैं। इसमें विटामिन vitamin, कैल्शियम, पोटैशियम, जिंक, आयरन iron, फाइबर fiber और एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। वहीं, लौकी का सेवन करने से हाई ब्लड प्रेशर, किडनी की बीमारियों और वजन कम करने में भी मदद मिलती है। लेकिन आपको बता दें, डायबिटीज के मरीजों के लिए लौकी के जूस का सेवन नुकसानदायक भी साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि डायबिटीज Diabetes की बीमारी में ज्यादा लौकी का जूस पीने से ब्लड शुगर लेवल अचानक से कम हो सकता है, जिससे मरीज की स्थिति बिगड़ सकती है। तो आइए जानते हैं डायबिटीज में लौकी का जूस पीने के नुकसान।

youtube-cover

डायबिटीज में लौकी जूस के नुकसान : Diabetes Me Lauki Juice Ke Nuksan In Hindi

कीटोएसिडोसिस (Ketoacidosis) की समस्या हो सकती है - अगर कोई व्यक्ति अधिक मात्रा में लौकी के जूस का सेवन करता है, तो इसकी वजह से सेहत को नुकसान हो सकता है। अधिक मात्रा में लौकी के जूस का सेवन करने से दस्त और उल्टी की समस्या हो सकती है। इसके साथ ही डायबिटीज के मरीजों में कीटोएसिडोसिस की समस्या हो सकती है।

ब्लड शुगर (Blood Sugar) लेवल कम हो सकता है - जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या है, तो वो लोग ब्लड शुगर कम करने की दवा लेते हैं। ऐसे में अगर ज्यादा लौकी का जूस पी लिया जाए, तो इससे आपकी सेहत बिगड़ सकती है। लौकी के जूस का ज्यादा सेवन करने से शुगर dugar level का स्तर अचानक से कम हो सकता है, जिससे आपको बेहोशी या चक्कर की समस्या हो सकती है।

इन समस्याओं में भी नहीं पीना चाहिए ज्यादा लौकी का जूस

अस्थमा - अस्थमा के मरीजों को ज्यादा लौकी का जूस नहीं पीना चाहिए। लौकी की तासीर ठंडी होती है, इसका जूस पीने से अस्थमा के मरीजों को खांसी-ज़ुकाम और सांस फूलने की समस्या हो सकती है।

हाई बीपी - हाई बीपी के मरीजों को भी लौकी का जूस कम मात्रा में पीना चाहिए। अगर आप ज्यादा लौकी का जूस पीते हैं, तो इससे ब्लड प्रेशर असामान्य रूप से कम हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan