Create
Notifications

सुबह खाली पेट नीम की पत्ती खाने के फायदे: subah khali pet neem ki patti khane ke fayde

Enter caption
Enter caption
Naina Chauhan

हरी-हरी नीम की पत्ती जिसका इस्तेमाल लोग कई सारी समस्या में करते हैं। सेहत के लिए बेहद फायदेमंद भी है। नीम में बहुत औषधियां गुण पाए जाते हैं। नीम की सिर्फ पत्ती ही नही बल्कि इसका फल, तेल जड़ औऱ छाल भी बहुत लाभकारी होती है। वहीं अगर खाली पेट नीम की पत्तियों का इस्तेमाल किया जाए तो इससे शरीर को बहुत फायदा मिलता है। नीम का सेवन करने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता तो बढ़ती ही है साथ ही शारीरिक विकारों को दूर करने में भी मदद मिलती है। नीम में एंटी बैक्टेरियल और एंटी सेप्टिक गुण मौजूद होते हैं, जोकि आपको कीटाणुओं से भी बचाते हैं।

ये भी पढ़ें: खाली पेट बेल का जूस पीने के फायदे: khali pet bel ka juice peene ke fayde

खाली पेट नीम के पत्ते खाने के फायदे-

कैंसर में मददगार- नीम के पत्ते खाने में थोड़े कड़वे होते हैं। लेकिन ये कड़वे कड़वे पत्ते शरीर को कैंसर जैसी बीमारी से बचने में मदद करता है।

त्वचा की बीमारी- बहुत पहले से नीम के पत्तों का इस्तेमाल त्वचा की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है। नीम के पत्तों को खाने से खून साफ होता है। जिससे त्वचा की समस्या दूर हो सकती है। वहीं नीम की पत्तियों को पानी में उबालकर उस पानी से नहाना चाहिए इससे बैक्टीरिया मर जाते हैं।

ये भी पढ़ें: न्यूट्रिशनिस्ट से जानें कोरोना से ठीक होने के बाद कैसे वापस लाए स्वाद और सूंघने की शक्ति

एलर्जी- नीम के ताजे पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और उस पेस्ट से छोटी-छोटी गोली बनाकर रखें। इन गोली को शहद के साथ सुबह खाली पेट खाएं। इससे किसी भी तरह की एलर्जी में फायदा मिलता है। इसका सेवन आप सभी दिनों में कर सकते हैं।

डायबीटीज के मरीज- डायबीटीज़ के मरीज के लिए नीम के पत्तों का सेवन बहुत लाभकारी होता है। अगर रोजाना खाली पेट नीम के पत्तों को खाया जाए तो इससे शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है।

पाचन क्रिया- पेट में होने वाले अल्सर, जलन, गैस जैसी समस्याओं को दूर करने के लिए सुबह खाली पेट नीम के पत्ते खाने चाहिए। इसके साथ ही इससे कब्ज की समस्या से भी छुटकारा मिलता है। नीम पेट से टॉक्सिक चीजों को बाहर निकाल कर पेट को पूरी तरह साफ़ कर देता है।

ये भी पढ़ें: अजवाइन के पानी के फायदे: awain ke pani ke fayde


Edited by Naina Chauhan

Comments

Fetching more content...