Create

शुगर के लिए योगासन 

शुगर के लिए योगासन (फोटो - sportskeeda hindi)
शुगर के लिए योगासन (फोटो - sportskeeda hindi)

जीवनशैली और खानपान की वजह से लोगों को सबसे बड़ा जोखिम मधुमेह (डायबिटीज) यानी हाई शुगर लेवल होने का होता है। डायबिटीज में शरीर का ब्लड शुगर(High Blood Sugar in Diabetes) बढ़ जाता है, जिसे कम करना (tips to reduce high blood sugar) बहुत जरूरी है। अगर व्यक्ति रोजाना एक्सरसाइज व योगा करे तो इससे मधुमेह रोगियों में हाई शुगर नियंत्रित (How to control sugar) हो जाता है। ऐसे में कुछ योगासन की मदद से डायबिटिक पेशेंट्स को लाभ हो सकता है (Beneficial Yoga in Diabetes)।

youtube-cover

शुगर के लिए योगासन : Yogasana For Diabetes In Hindi

धनुरासन (Dhanurasana) - धनुरासन करने से पैंक्रियाज को सक्रिय कर देता है। इस आसन से शरीर में ब्लड शुगर कंट्रोल (Yoga to reduce high sugar level) करने वाले इंसुलिन हॉर्मोन पैंक्रियाज ही उत्पादित करता है। इसके अलावा धनुरासन पेट के सभी अंगों को मजबूत बनाने के साथ - साथ व्यक्ति को तनाव से भी राहत देता है।

कपालभाति प्राणायाम (Kapalbhati Pranayam) - कपालभाति प्राणायाम करने से डायबिटीज रोगियों के लिए काफी फायदा होता है। इस आसन से शरीर की तंत्र-तंत्रिकाओं और दिमाग की नसों को मजबूती मिलती है। इसी के साथ शरीर में ऊर्जा भी देता है। कपालभाति प्राणायाम (Yoga for Diabetes) शरीर में रक्त प्रवाह को बेहतर करने के साथ मन को भी शांत करता है।

अर्धमत्स्येन्द्रासन (Ardha Matsyendrasana) - मधुमेह रोगियों को अर्धमत्स्येन्द्रासन (Yoga to control Diabetes) भी करना चाहिए। इस आसन को करने से पेट के अंगों की मालिश होने के साथ रीढ़ की हड्डी भी मजबूत बनती है। मधुमेह से राहत देने वाला यह योगासन (Exercise to control high sugar level) फेफड़ों की सांस लेने की क्षमता भी बढ़ाता है।

श्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana) - हाई ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए पश्चिमोत्तानासन आसन भी करना चाहिए। यह आसन भी पेट के सभी अंगों को सक्रिय करता है।

हलासन - जिन लोगों को शुगर की बीमारी है, उनको रोजाना हलासन करना चाहिए। इस आसन को करने से शरीर में खून का बहाव अच्छे से होता है। लेकिन एक बात का ध्यान रहे अगर किसी को डायरिया, या फिर कोई महिला जो गर्भवती हो और हाई बीपी या कमर दर्द का शिकार हैं वह इस आसन को बिल्कुल ना करें। इसके अलावा आसन करते समय अपनी गर्दन पर दबाव बिल्कुल ना बनाएं।और हाई बीपी या कमर दर्द का शिकार हैं वह इस आसन को बिल्कुल ना करें। इसके अलावा आसन करते समय अपनी गर्दन पर दबाव बिल्कुल ना बनाएं।

शवासन (Savasana) - शवासन काफी आसन योगासन है, जिसे कोई भी व्यक्ति (tips to control diabetes) कर सकता है। शवासन करने में ध्यान लगाने की जरूरत होती है। जो कि शरीर को विश्राम देने के साथ मन शांत करता है और ऊर्जा का संचार करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment