वजन कम करने के लिए क्या खाएं बेसन या सूजी? जानें दोनों के फायदे

वजन कम करने के लिए क्या खाएं बेसन या सूजी (sportskeeda Hindi)
वजन कम करने के लिए क्या खाएं बेसन या सूजी (sportskeeda Hindi)

सूजी (Sooji) और बेसन (Besan) का सेवन अक्सर हलवा, ढोकला, चीला, उत्तपम, डोसा, लड्डू आदि बनाने के लिए करते हैं। इनमें पोषक तत्वों का खजाना होता है। बेसन (Gram flour) काला चना को पीसकर बनता है, तो सूजी (Semolina) को बनाने के लिए गेहूं की ऊपर की परत को निकाल दिया जाता है। फिर उसे पीसा जाता है, जिससे गेहूं टुकड़े-टुकड़े हो जाते हैं। यही सूजी होती है। सूजी और बेसन खाने से वजन भी कम होता है, लेकिन हम ये जानेंगे कि दोनों में से किसे खाने से वजन (Semolina or Gram flour for weight loss) अधिक कम होता है।

youtube-cover

सूजी के पोषक तत्व -

सूजी में कैल्शियम, प्रोटीन, मैग्नीशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, फॉस्फोरस, पोटैशियम, मैग्नीशियम, जिंक, सोडियम, थियामिन, कई तरह के विटामिंस, नियासिन आदि होते हैं. इसमें कैलोरी की मात्रा काफी कम होती है, जो वजन कम करने में मदद करती है।

बेसन के पोषक तत्व -

बेसन में फैट, एनर्जी, प्रोटीन, फाइबर, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, सोडियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, कॉपर आदि आवश्यक पोषक तत्व होते हैं, जो शरीर के लिए बेहद जरूरी होते हैं।

वजन कम करने के लिए क्या खाएं बेसन या सूजी? जानें दोनों के फायदे : Sooji Aur Besan What Is Better For Weight Loss In Hindi

बता दें, सूजी ड्यूरम गेहूं का एक मोटा पाउडर है जो न केवल ग्लाइसेमिक इंडेक्स के हाई लेवल पर होता है, बल्कि ग्लूटेन से भी भरपूर होता है। सूजी में फोलेट या विटामिन बी होता है। एक कप सूजी से एक दिन में लगभग तीन-चौथाई फोलेट मिल जाता है। वहीं, बेसन का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, इसमें ग्लूटेन नहीं होता और यह प्रोटीन से भरपूर होता है। जिन लोगों को डायबिटीज की बीमारी है उनके लिए बेसन का सेवन अच्छा होता है।

वजन घटाने में सूजी के फायदे -

अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो सूजी का सेवन कर सकते हैं। सूजी में फाइबर काफी अधिक मात्रा में मौजूद होता है। फाइबर शरीर से वजन (Suji for weight loss) कम करने के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व है।

वजन घटाने में बेसन के फायदे -

बेसन के नियमित सेवन करने से शरीर में फैट जमा नहीं होता है, जिससे वजन नहीं बढ़ता (Besan for weight loss)। बेसन में फाइबर होता है, जो वजन कंट्रोल करने के लिए बेहद जरूरी पोषक तत्व है। साथ ही इसमें मौजूद कॉपर, पोटैशियम, आयरन, मैग्नीशियम वजन को बढ़ने नहीं देते हैं। बेसन पेट, आंतों और पाचन तंत्र को भी दुरुस्त रखता है।

वजन घटाने के लिए दोनों क्यों है बेहतर?

वजन घटाने weight loss के लिए दोनों ही चीजें फायदेमंद हैं। ये दोनों ही आसानी से मिल जाते हैं और जल्दी तैयार हो जाते हैं। सूजी उपमा या बेसन का चीला तैयार होने में 15-20 मिनट ही लगते हैं। दोनों ही चीजें स्वाद में बेहतरीन होती हैं, और शरीर के लिए पौष्टिक से भरपूर होते हैं। अपनी मेडिकल कंडीशन और एलर्जी को देखने के बाद आप वजन घटाने के लिए सूजी या बेसन खाने का फैसला कर सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan