गर्मियों में कब्ज़ पैदा कर सकते हैं ये 10 फूड्स

गर्मियों में कब्ज़ पैदा कर सकते हैं ये 10 फूड्स (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
गर्मियों में कब्ज़ पैदा कर सकते हैं ये 10 फूड्स (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

कुछ खाद्य पदार्थ कब्ज में योगदान कर सकते हैं, खासकर गर्मी के महीनों में जब निर्जलीकरण और गर्मी पाचन को प्रभावित कर सकती है। यहाँ 10 खाद्य पदार्थ हैं जो गर्मियों के दौरान संभावित रूप से कब्ज पैदा कर सकते हैं:-

गर्मियों में कब्ज़ पैदा कर सकते हैं ये 10 फूड्स (These 10 Foods Can Cause Constipation In Summer In Hindi)

youtube-cover

प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ

अत्यधिक प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ जैसे फास्ट फूड, जमे हुए भोजन और पैकेज्ड स्नैक्स में अक्सर फाइबर कम और अस्वास्थ्यकर वसा अधिक होता है। ये कारक पाचन को धीमा कर सकते हैं और कब्ज पैदा कर सकते हैं। इसके बजाय संपूर्ण, असंसाधित खाद्य पदार्थों का विकल्प चुनें।

डेयरी उत्पादों

डेयरी उत्पादों में पाए जाने वाले लैक्टोज के कारण कुछ लोगों को कब्ज की समस्या हो सकती है। आइसक्रीम, पनीर और दूध आम अपराधी हो सकते हैं। यदि आप लैक्टोज के प्रति संवेदनशील हैं, तो लैक्टोज-मुक्त विकल्पों का प्रयास करें या मॉडरेशन में डेयरी का सेवन करें।

लाल मांस

लाल मांस, जैसे गोमांस और मेमने में वसा की मात्रा अधिक होती है और इसमें फाइबर की कमी होती है। यह पचने में अधिक समय लेता है, संभावित रूप से कब्ज पैदा करता है। अपने गर्मियों के भोजन में पोल्ट्री, मछली, या पौधे-आधारित विकल्पों जैसे दुबले प्रोटीन स्रोतों को शामिल करने पर विचार करें।

तले हुए खाद्य पदार्थ

तले हुए खाद्य पदार्थ अक्सर चिकना होते हैं, और उच्च वसा वाली सामग्री पाचन को धीमा कर सकती है। ये खाद्य पदार्थ आमतौर पर फाइबर में भी कम होते हैं, जो कब्ज में योगदान कर सकते हैं। इसके बजाय, जोखिम को कम करने के लिए ग्रील्ड या बेक्ड विकल्प चुनें।

केले

जबकि केले एक पौष्टिक फल हैं, वे कुछ व्यक्तियों के लिए बाध्यकारी हो सकते हैं। इनमें पेक्टिन नामक एक प्रकार का घुलनशील फाइबर होता है, जो कब्ज में योगदान कर सकता है, खासकर अगर अधिक मात्रा में सेवन किया जाए। संयम में केले का आनंद लें और उन्हें उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थों के साथ जोड़ दें।

कार्बोनेटेड ड्रिंक्स

सोडा और फ़िज़ी पेय जैसे कार्बोनेटेड पेय पदार्थ सूजन और गैस पैदा कर सकते हैं, जिससे कब्ज हो सकता है। इसके अतिरिक्त, इन पेय में अक्सर उच्च मात्रा में चीनी या कृत्रिम मिठास होती है, जो नियमित मल त्याग को बाधित कर सकती है। पानी से हाइड्रेटेड रहना सबसे अच्छा विकल्प है।

कैफीन और शराब

कैफीन और अल्कोहल दोनों का शरीर पर निर्जलीकरण प्रभाव पड़ता है, जिससे कब्ज हो सकता है। कॉफी और मादक पेय पदार्थों का सेवन कम मात्रा में किया जाना चाहिए, और पानी के पर्याप्त सेवन के साथ उन्हें संतुलित करना महत्वपूर्ण है।

सफेद चावल और पास्ता

सफेद चावल और पास्ता जैसे रिफाइंड अनाज की फाइबर युक्त बाहरी परतें हटा दी गई हैं, जिससे उनमें फाइबर की मात्रा कम हो गई है। यह पाचन को धीमा कर सकता है और संभावित रूप से कब्ज पैदा कर सकता है। इसके बजाय साबुत अनाज जैसे ब्राउन राइस और पूरे गेहूं का पास्ता चुनें।

कच्चे फल

कुछ कच्चे फल, जैसे हरे केले, में स्टार्च की मात्रा अधिक हो सकती है, जिससे उन्हें पचाना कठिन हो जाता है। यह कब्ज में योगदान दे सकता है। ऐसे पके फलों का विकल्प चुनें जो फाइबर में प्राकृतिक रूप से उच्च हों, जैसे कि जामुन, प्रून और संतरे।

उच्च वसा वाले डेसर्ट

केक, पेस्ट्री और क्रीमी ट्रीट जैसे समृद्ध डेसर्ट में लिप्त होने से उनकी उच्च वसा सामग्री के कारण पाचन धीमा हो सकता है। वे आमतौर पर फाइबर में भी कम होते हैं। इन व्यंजनों का संयम से आनंद लें और उन्हें फाइबर युक्त आहार के साथ संतुलित करें।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि इन खाद्य पदार्थों के लिए अलग-अलग प्रतिक्रियाएं भिन्न हो सकती हैं। यदि आप कब्ज या किसी पाचन संबंधी परेशानी का अनुभव करते हैं, तो व्यक्तिगत सलाह और आहार संबंधी सिफारिशों के लिए स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करना सबसे अच्छा है। हाइड्रेटेड रहें, पर्याप्त फाइबर युक्त संतुलित आहार बनाए रखें और अपने गर्मियों के भोजन का मन लगाकर आनंद लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now