आपके बच्चे की ये 5 आदतें घटा रही हैं उसकी मानसिक शक्ति!

These 5 habits of your child are reducing his mental power!
आपके बच्चे की ये 5 आदतें घटा रही हैं उसकी मानसिक शक्ति!

माता-पिता के रूप में, हम सभी चाहते हैं कि हमारे बच्चे अपनी पूरी क्षमता तक पहुंचें और महान चीजें हासिल करें। हालाँकि, कभी-कभी हम अनजाने में ऐसी आदतों में लिप्त हो जाते हैं जो हमारे बच्चों की मानसिक शक्ति और क्षमता में बाधा बन सकती हैं।

यहां 5 सामान्य आदतें हैं जो आपके बच्चे की मानसिक शक्ति को कम कर सकती हैं:

अत्यधिक स्क्रीन समय:

आज की दुनिया में स्क्रीन हर जगह हैं। टीवी से लेकर स्मार्टफोन और टैबलेट तक, स्क्रीन हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन गए हैं। जबकि तकनीक कई तरह से फायदेमंद हो सकती है, अत्यधिक स्क्रीन समय हमारे बच्चों की मानसिक शक्ति पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।

शोध से पता चला है कि जो बच्चे स्क्रीन के सामने अधिक समय बिताते हैं उनमें भाषा और पढ़ने के कौशल के निचले स्तर और कम रचनात्मकता सहित संज्ञानात्मक कौशल कम होते हैं। इसके अतिरिक्त, अत्यधिक स्क्रीन समय नींद की गड़बड़ी पैदा कर सकता है, जो आगे चलकर मानसिक स्वास्थ्य और संज्ञानात्मक कार्य को प्रभावित कर सकता है।

youtube-cover

शारीरिक गतिविधि की कमी:

शारीरिक गतिविधि शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए आवश्यक है। जब बच्चे शारीरिक गतिविधि में संलग्न होते हैं, तो वे एंडोर्फिन छोड़ते हैं, जो तनाव को कम करने और मूड को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। व्यायाम स्मृति, ध्यान और समस्या को सुलझाने के कौशल सहित संज्ञानात्मक कार्य को बेहतर बनाने में भी मदद कर सकता है।

हालाँकि, आज कई बच्चे पर्याप्त शारीरिक गतिविधि नहीं कर पा रहे हैं। प्रौद्योगिकी और गतिहीन जीवन शैली के उदय के साथ, बच्चे अधिक समय घर के अंदर बिता रहे हैं और शारीरिक गतिविधियों में कम समय बिता रहे हैं।

नींद की कमी:

नींद हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य और तंदुरूस्ती के लिए आवश्यक है, जिसमें हमारे मानसिक स्वास्थ्य भी शामिल है। जब हम सोते हैं, तो हमारे शरीर और दिमाग को आराम करने और रिचार्ज करने का मौका मिलता है। पर्याप्त नींद के बिना, बच्चे अपनी मानसिक शक्ति पर कई तरह के नकारात्मक प्रभावों का अनुभव कर सकते हैं, जिनमें चिड़चिड़ापन, फोकस की कमी और याददाश्त में कठिनाई शामिल है।

नींद की कमी!
नींद की कमी!

अपने बच्चे की मानसिक शक्ति में सुधार करने के लिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि वे हर रात पर्याप्त नींद ले रहे हैं। एक बच्चे की नींद की मात्रा उसकी उम्र के आधार पर अलग-अलग हो सकती है, लेकिन अधिकांश बच्चों को हर रात 9 से 12 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है।

खराब पोषण:

हम जो भोजन करते हैं वह हमारे मानसिक स्वास्थ्य और संज्ञानात्मक कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जो बच्चे प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और शक्करयुक्त पेय का अधिक सेवन करते हैं, उनकी मानसिक शक्ति पर नकारात्मक प्रभाव पड़ने की संभावना अधिक होती है, जिसमें याददाश्त और ध्यान देने में कठिनाई भी शामिल है।

अपने बच्चे की मानसिक शक्ति में सुधार करने के लिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि वे स्वस्थ और संतुलित आहार खा रहे हैं। इसमें बहुत सारे फल और सब्जियां, लीन प्रोटीन, साबुत अनाज और स्वस्थ वसा शामिल हैं।

समाजीकरण का अभाव:

मनुष्य सामाजिक प्राणी हैं, और हमारे मानसिक स्वास्थ्य और कल्याण के लिए समाजीकरण आवश्यक है। जिन बच्चों में समाजीकरण के अवसरों की कमी होती है, वे अपनी मानसिक शक्ति पर नकारात्मक प्रभाव का अनुभव कर सकते हैं, जिसमें सामाजिक कौशल, संचार और समस्या को सुलझाने में कठिनाई शामिल है।

अपने बच्चे की मानसिक शक्ति में सुधार करने के लिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि उन्हें दूसरों के साथ सामूहीकरण करने का अवसर मिले। इसमें प्लेडेट्स, क्लब या खेल टीमों में शामिल होने या परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताने जैसी गतिविधियां शामिल हो सकती हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now