त्रिफला चूर्ण के फायदे

त्रिफला चूर्ण के फायदा (sportskeeda Hindi)
त्रिफला चूर्ण के फायदा (sportskeeda Hindi)

एक अच्छी सेहत के लिए आयुर्वेद कई ऐसी चीजें हैं, जिनका सेवन कई बीमारियों को दूर करने में मदद करता है। ऐसे ही त्रिफला का चूर्ण भी है, जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद माना गया है। त्रिफला का चूर्ण खाने से इम्यूनिटी दूर होने के साथ शरीर में कमजोरी और थकावट भी दूर होती है। आइए जानते हैं त्रिफला चूर्ण खाने के फायदे।

youtube-cover

त्रिफला चूर्ण के फायदे : Triphala Churna Ke Fayde In Hindi

कमजोरी दूर करने के लिए -

अगर किसी व्यक्ति का शरीर कमजोर है तो उसके लिए त्रिफला का सेवन रामबाण साबित होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके सेवन करने से व्यक्ति की याद्दाश्त भी अन्य लोगों के मुकाबले तेज होती है। साथ ही दुर्बलता कम होती है। दुर्बलता को कम करने के लिए त्रिफला को हरड़, बहेड़ा, आंवला, घी और शक्कर को मिलाकर खाना चाहिए।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए -

बीमारियों से बचने के लिए व्यक्ति के शरीर में इम्यूनिटी का मजबूत होना बहुत जरूरी है। इसके लिए अगर त्रिफला का चूर्ण का सेवन किया जाए तो इससे व्यक्ति को लाभ होगा। त्रिफला का चूर्ण शरीर को हेल्दी रखने में मदद करता है। त्रिफला का चूर्ण नियमित खाने से शरीर शारीरिक कमजोरी दूर होती है और शरीर स्वस्थ रहता है।

हाई ब्लड प्रेशर में राहत -

त्रिफला का सेवन करने से दिल के रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप की समस्या में आराम मिलता है। वहीं अगर कोई व्यक्ति उच्च रक्तचाप या मुधमेह के बढ़ते स्तर से परेशान हैं तो ऐसे में उसे तीन से चार ग्राम त्रिफला के चूर्ण का सेवन प्रतिदिन रात को सोते समय दूध के साथ कर लें। इससे जल्द राहत मिलेगी।

कब्ज दूर करने के लिए -

त्रिफला का चूर्ण का सेवन करने से कब्ज को दूर करने में मदद मिलती है। जब किसी व्यक्ति की लाइफस्टाइल में कमी और कई बार गलत खानपान हो जाता है, तो इसकी वजह से कब्ज की परेशानी होने लगती है। ऐसे में त्रिफला का चूर्ण गुनगुने पानी के साथ लेने से कब्ज की समस्या आसानी से दूर होती है।

त्वचा के लिए फायदेमंद -

त्रिफला का चूर्ण सेवन करने से स्किन की कई समस्याएं आसानी से दूर होती हैं। त्रिफला में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी स्किन को हेल्दी रखने में मदद करती हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan