Create

विटामिन D-3 की कमी के लक्षण और उपाय - Vitamin D-3 Ki Kami Ke Lakshan Aur Upaay

विटामिन D-3 की कमी के लक्षण और उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
विटामिन D-3 की कमी के लक्षण और उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सेलुलर विकास को विनियमित करने और शरीर में न्यूरोमस्कुलर कार्यों का समर्थन करने के लिए विटामिन D की आवश्यकता होती है। यह एक वसा में घुलनशील विटामिन है, जो शरीर में कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ावा देता है, इस प्रकार अस्थि खनिज घनत्व में सुधार करता है। यह अपने विरोधी भड़काऊ गुणों के लिए जाना जाता है जो सूजन और जोड़ों के दर्द को ठीक करता है।

विटामिन D-3 की कमी के लक्षण और उपाय - Vitamin D-3 Ki Kami Ke Lakshan Aur Upaay In Hindi

विटामिन D-3 की कमी के लक्षण : Symptoms Of Vitamin D-3 Deficiency In Hindi

विटामिन D की गंभीर कमी के कारण रिकेट्स होता है, जो बच्चों में गलत विकास पैटर्न, मांसपेशियों में कमजोरी, हड्डियों में दर्द और जोड़ों में विकृति के रूप में दिखाई देता है। यह बहुत दुर्लभ है। हालांकि, जिन बच्चों में विटामिन D की कमी होती है, उनमें मांसपेशियों में कमजोरी या मांसपेशियों में दर्द और दर्द भी हो सकता है।

वयस्कों में विटामिन D की कमी बिल्कुल स्पष्ट नहीं है। संकेत और लक्षणों में शामिल हो सकते हैं:

■ थकान (Fatigue)

■ हड्डी में दर्द (Bone pain)

■ मांसपेशियों में कमजोरी, मांसपेशियों में दर्द या मांसपेशियों में ऐंठन (Muscle weakness, muscle aches, or muscle cramps)

■ मूड में बदलाव, डिप्रेशन की तरह (Mood changes, like depression)

विटामिन D3 के लिए घरेलू उपाय : Vitamin D-3 Deficiency Home Remedies In Hindi

फैटी मछली (Fatty fish)

सैल्मन, टूना, मैकेरल विटामिन डी से भरपूर होते हैं, अगर आपके शरीर में विटामिन D की कमी है, तो ज्यादातर रोजाना मछली खाने की सलाह दी जाती है। वे फैटी एसिड और ओमेगा -3 का भी एक अच्छा स्रोत हैं, जो प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करते हैं और शरीर को ऊर्जा देते हैं।

COD लिवर तेल (Cod liver oil)

Cod लिवर ऑयल और फिश ऑयल पोषक तत्वों के दो अलग-अलग स्रोत हैं, जो शरीर के लिए समान रूप से महत्वपूर्ण हैं। Cod-लिवर ऑयल सप्लीमेंट्स को अपने आहार में शामिल करने का प्रयास करें, इसमें विटामिन D और ओमेगा -3 की प्रचुरता होती है। इन दोनों में कुछ बेहतरीन एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो जोड़ों के आसपास की सूजन को कम करने में मदद करते हैं।

अंडे की जर्दी (Egg yolk)

अंडे सबसे स्वास्थ्यप्रद भोजन हैं, वैसे तो हम में से ज्यादातर लोग अंडे की जर्दी खाने से बचते हैं, लेकिन जिन लोगों में विटामिन D की कमी होती है उन्हें इसे धार्मिक रूप से खाना शुरू कर देना चाहिए।

दूध (Milk)

दूध विटामिन D का एक समृद्ध स्रोत है। इसलिए, एक गिलास फुल-क्रीम दूध सहित, दिन में दो बार आपके शरीर में विटामिन D के स्तर में सुधार कर सकता है। यह न केवल आपके चयापचय को बढ़ावा देगा, बल्कि यह भी सुनिश्चित करेगा कि आप पूरे दिन थका हुआ महसूस न करें।

मशरूम (Mushroom)

मशरूम अत्यंत पौष्टिक होते हैं, इसमें विटामिन और खनिजों की एक सरणी होती है। ये वास्तव में स्वादिष्ट होते हैं और इन्हें आसानी से अपने आहार में शामिल किया जा सकता है। मशरूम विटामिन D और पोटेशियम से भरपूर होते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment