जानिये क्या होता है जब हम “ब्रेन फॉग” और “सुन्न” महसूस करतें हैं: मानसिक स्वास्थ्य  

What happens when we feel "brain fog" and "numb": Mental health
जानिये क्या होता है जब हम “ब्रेन फॉग” और “सुन्न” महसूस करतें हैं: मानसिक स्वास्थ्य

ब्रेन फॉग और सुन्न महसूस होना सामान्य लक्षण हैं जो कई प्रकार के कारकों के कारण हो सकते हैं। ब्रेन फॉग को मानसिक स्पष्टता की कमी और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई की विशेषता है, जबकि सुन्न महसूस करना भावनात्मक या शारीरिक संवेदना की कमी को संदर्भित करता है।

ब्रेन फॉग और सुन्न होने का एक संभावित कारण तनाव है।

तनाव कोर्टिसोल की रिहाई का कारण बन सकता है, एक हार्मोन जो संज्ञानात्मक कार्य और भावनात्मक विनियमन में हस्तक्षेप कर सकता है। पुराने तनाव से मस्तिष्क में सूजन भी हो सकती है, जो मस्तिष्क कोहरे और भावनात्मक सुन्नता में योगदान कर सकती है। ब्रेन फॉग और सुन्नता का एक अन्य संभावित कारण खराब नींद है। नींद संज्ञानात्मक कार्य और भावनात्मक विनियमन के लिए आवश्यक है। नींद की कमी से थकान हो सकती है, जिससे ध्यान केंद्रित करना और भावनात्मक रूप से व्यस्त महसूस करना मुश्किल हो सकता है।

कुछ चिकित्सीय स्थितियाँ भी मस्तिष्क कोहरे और सुन्नता का कारण बन सकती हैं।

चिकित्सीय स्थितियाँ जैसे चिंता और घबराहट!
चिकित्सीय स्थितियाँ जैसे चिंता और घबराहट!

उदाहरण के लिए, अवसाद और चिंता सामान्य मानसिक स्वास्थ्य स्थितियां हैं जो मस्तिष्क कोहरे और भावनात्मक सुन्नता का कारण बन सकती हैं। इसके अतिरिक्त, फ़िब्रोमाइल्गिया और क्रोनिक थकान सिंड्रोम जैसी स्थितियाँ थकान और मस्तिष्क कोहरे का कारण बन सकती हैं, जो भावनात्मक सुन्नता में योगदान कर सकती हैं।

कुछ दवाएं भी ब्रेन फॉग और सुन्नता का कारण बन सकती हैं।

उदाहरण के लिए, कुछ एंटीडिप्रेसेंट और चिंता-विरोधी दवाएं थकान और मस्तिष्क कोहरे का कारण बन सकती हैं, जो भावनात्मक सुन्नता में योगदान कर सकती हैं। इसके अतिरिक्त, कुछ दर्द की दवाएं भावनात्मक सुन्नता पैदा कर सकती हैं, क्योंकि वे शरीर की दर्द महसूस करने की क्षमता में हस्तक्षेप कर सकती हैं।

पोषण मस्तिष्क कोहरे और सुन्नता में भी भूमिका निभा सकता है। प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और चीनी में उच्च आहार मस्तिष्क में सूजन में योगदान कर सकता है, जो मस्तिष्क कोहरे और भावनात्मक सुन्नता में योगदान कर सकता है। इसके अतिरिक्त, पोषक तत्वों की कमी संज्ञानात्मक और भावनात्मक लक्षणों में योगदान कर सकती है।

ब्रेन फॉग और सुन्नता को दूर करने के लिए,

अंतर्निहित कारण की पहचान करना और उसका समाधान करना महत्वपूर्ण है। यदि तनाव का कारण है, तो ध्यान, योग और व्यायाम जैसी तनाव प्रबंधन तकनीकें सहायक हो सकती हैं। यदि खराब नींद इसका कारण है, तो अपनी नींद की दिनचर्या में बदलाव करना, जैसे कि सोने से पहले स्क्रीन से बचना और नियमित नींद का कार्यक्रम स्थापित करना मददगार हो सकता है।

youtube-cover

यदि कोई चिकित्सीय स्थिति इसका कारण है,

तो स्थिति को प्रबंधित करने के लिए स्वास्थ्य सेवा प्रदाता के साथ काम करना महत्वपूर्ण है। यदि दवा कारण है, तो एक स्वास्थ्य सेवा प्रदाता खुराक को समायोजित करने या एक अलग दवा पर स्विच करने में सक्षम हो सकता है। इसके अतिरिक्त, स्वस्थ आहार और जीवन शैली को अपनाना महत्वपूर्ण है। फलों और सब्जियों जैसे पोषक तत्वों से भरपूर आहार खाने से संज्ञानात्मक और भावनात्मक कल्याण में मदद मिल सकती है। नियमित व्यायाम करना और धूम्रपान और अत्यधिक शराब के सेवन से बचना भी मददगार हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now