विश्व अस्थमा दिवस 2023: बचपन में अस्थमा को नियंत्रित करने के प्राकृतिक आसान तरीके क्या हैं?

What are the natural easy ways to control asthma in childhood?
विश्व अस्थमा दिवस 2023: बचपन में अस्थमा को नियंत्रित करने के प्राकृतिक आसान तरीके क्या हैं?

अस्थमा एक पुरानी श्वसन स्थिति है जो दुनिया भर में लाखों बच्चों को प्रभावित करती है। जबकि अस्थमा के लक्षणों के प्रबंधन के लिए दवा और चिकित्सा उपचार महत्वपूर्ण हैं, बचपन में अस्थमा को नियंत्रित करने के प्राकृतिक और आसान तरीके भी हैं।

यहां अस्थमा के लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद करने के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं।

ट्रिगर्स की पहचान करें:

अस्थमा के प्रबंधन में पहला कदम उन ट्रिगर्स की पहचान करना है जो अस्थमा के दौरे का कारण बनते हैं। ट्रिगर में धूल, पालतू जानवरों की रूसी जैसे एलर्जी के साथ-साथ धुएं, प्रदूषण या तेज गंध जैसी जलन शामिल हो सकती है। एक बार जब आप अपने बच्चे के ट्रिगर्स को जान जाते हैं, तो आप उनके संपर्क में आने को कम करने के लिए कदम उठा सकते हैं।

घर के अंदर की हवा को साफ रखें:

घर के अंदर की हवा को साफ रखें!
घर के अंदर की हवा को साफ रखें!

घर के अंदर की हवा की गुणवत्ता अस्थमा के लक्षणों को प्रबंधित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सुनिश्चित करें कि आपका घर अच्छी तरह हवादार है, और एलर्जी और जलन को कम करने के लिए एयर फिल्टर का उपयोग करें। अपने घर में धूम्रपान करने या दूसरों को धूम्रपान करने की अनुमति देने से बचें।

शारीरिक गतिविधि को प्रोत्साहित करें:

अस्थमा से पीड़ित बच्चों के लिए व्यायाम आवश्यक है, क्योंकि यह फेफड़ों की कार्यक्षमता में सुधार करने और श्वसन की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है। अपने बच्चे को तैराकी, पैदल चलना, साइकिल चलाना या योग जैसी शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करें। हालांकि, धीरे-धीरे शुरू करना और व्यायाम के दौरान अपने बच्चे की सांस लेने की निगरानी करना महत्वपूर्ण है।

एक स्वस्थ आहार बनाए रखें:

एक स्वस्थ आहार समग्र स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और अस्थमा के लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है। अपने बच्चे को एक संतुलित आहार खाने के लिए प्रोत्साहित करें जिसमें भरपूर मात्रा में फल और सब्जियां, लीन प्रोटीन और साबुत अनाज शामिल हों। प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और मीठे स्नैक्स से बचें, जो अस्थमा के लक्षणों को ट्रिगर कर सकते हैं।

youtube-cover

साँस लेने की तकनीक का अभ्यास करें:

साँस लेने के व्यायाम से अस्थमा से पीड़ित बच्चों को अपनी साँस को नियंत्रित करना और लक्षणों को प्रबंधित करना सीखने में मदद मिल सकती है। पर्स्ड-लिप ब्रीदिंग, डायाफ्रामिक ब्रीदिंग या डीप ब्रीदिंग जैसी तकनीकें वायुमार्ग को आराम देने और लक्षणों को कम करने में मदद कर सकती हैं।

प्राकृतिक उपचार का प्रयोग करें:

कुछ प्राकृतिक उपचार अस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं, हालांकि किसी भी नए उपचार को आजमाने से पहले अपने बच्चे के डॉक्टर से बात करना महत्वपूर्ण है। उदाहरण के लिए, कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि शहद, अदरक और हल्दी में सूजनरोधी गुण हो सकते हैं जो अस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं।

लक्षणों की निगरानी करें:

अपने बच्चे के अस्थमा के लक्षणों की नियमित रूप से निगरानी करना और उपचार को आवश्यकतानुसार समायोजित करना आवश्यक है। आवृत्ति, गंभीरता और ट्रिगर सहित अपने बच्चे के लक्षणों पर नज़र रखें। अस्थमा कार्य योजना बनाने के बारे में अपने बच्चे के डॉक्टर से बात करें, जिसमें यह बताया गया हो कि कब और कैसे दवाओं का उपयोग करना है, कब चिकित्सकीय ध्यान देना है, और घर पर लक्षणों का प्रबंधन कैसे करना है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now