बवासीर होने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं?

बवासीर होने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं? (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
बवासीर होने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं? (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

बवासीर (Piles), जिसे बवासीर भी कहा जाता है, एक सामान्य स्थिति है जो मलाशय और गुदा को प्रभावित करती है। वे इन क्षेत्रों में रक्त वाहिकाओं की सूजन और सूजन के कारण होते हैं, और खुजली, दर्द और रक्तस्राव जैसे लक्षण पैदा कर सकते हैं। यदि आपको बवासीर है, तो अपने लक्षणों को प्रबंधित करने और जटिलताओं के जोखिम को कम करने के लिए अपने आहार पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है। बवासीर होने पर क्या खाएं और क्या न खाएं, इसके कुछ टिप्स यहां दिए गए हैं।

youtube-cover

बवासीर होने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं? (What To Eat And What Not To Eat When You Have Piles In Hindi)

बवासीर होने पर क्या खाएं है? (What to eat when you have piles)

1. उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थ (High-fiber foods): उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थ खाने से आपके मल को नरम करने में मदद मिल सकती है और उन्हें पास करना आसान हो जाता है। यह आपके पाइल्स पर दबाव कम करने और कब्ज को रोकने में मदद कर सकता है, जो पाइल्स का एक सामान्य कारण है। फाइबर के कुछ अच्छे स्रोतों में फल, सब्जियां, साबुत अनाज और फलियां शामिल हैं।

2. तरल पदार्थ (Fluids): पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ पीने से आपके मल को नरम रखने और कब्ज को रोकने में मदद मिल सकती है। एक दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी पीने का लक्ष्य रखें और शराब और कैफीन जैसे डिहाइड्रेटिंग तरल पदार्थों से बचने की कोशिश करें।

3. प्रोबायोटिक्स (Probiotics): प्रोबायोटिक्स फायदेमंद बैक्टीरिया होते हैं जो आपके आंत के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। वे दही और केफिर जैसे किण्वित खाद्य पदार्थों में पाए जा सकते हैं, और इन्हें पूरक के रूप में भी लिया जा सकता है।

बवासीर होने पर क्या ना खाएं? (what not to eat when you have piles)

1. प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ (Processed foods): प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ अक्सर नमक, चीनी और अस्वास्थ्यकर वसा में उच्च होते हैं और कब्ज और अन्य पाचन समस्याओं में योगदान कर सकते हैं। प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों के सेवन को सीमित करने की कोशिश करें और इसके बजाय संपूर्ण, असंसाधित खाद्य पदार्थों पर ध्यान केंद्रित करें।

2. मसालेदार भोजन (Spicy foods): मसालेदार भोजन बवासीर को परेशान कर सकता है और दर्द और परेशानी पैदा कर सकता है। उनसे बचना या कम से कम अपने सेवन को सीमित करना सबसे अच्छा है।

3. शराब और कैफीन (Alcohol and caffeine): जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, शराब और कैफीन आपके शरीर को निर्जलित कर सकते हैं और आपके मल को कठिन बना सकते हैं, जिससे आपके बवासीर के लक्षण बिगड़ सकते हैं।

4. लाल मांस (Red meat): लाल मांस वसा में उच्च होता है और पचाने में मुश्किल हो सकता है, जो बवासीर को बढ़ा सकता है। रेड मीट के अपने सेवन को सीमित करने की कोशिश करें और इसके बजाय चिकन, मछली और टोफू जैसे दुबले प्रोटीन स्रोतों का विकल्प चुनें।

खान-पान में बदलाव करने के अलावा, आप अपने बवासीर के लक्षणों को प्रबंधित करने के लिए अन्य चीजें भी कर सकते हैं। इसमें शामिल है:

- लंबे समय तक बैठने या खड़े होने से बचना

- नियमित व्यायाम करना

- बवासीर की क्रीम या मलहम का उपयोग करना

- गर्म स्नान करना

यदि आपको संदेह है कि आपको बवासीर है, तो अपने चिकित्सक या स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि वे आपको एक सटीक निदान प्रदान कर सकते हैं और आपके लिए सर्वोत्तम उपचार विकल्पों की सिफारिश कर सकते हैं।

**अंत में, ढेर एक दर्दनाक और असुविधाजनक स्थिति हो सकती है, लेकिन आहार परिवर्तन और अन्य जीवनशैली समायोजन करने से आपके लक्षणों को प्रबंधित करने और जटिलताओं के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है। उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थ खाने, बहुत सारे तरल पदार्थ पीने और प्रोबायोटिक्स लेने से आपके मल को नरम रखने और कब्ज को रोकने में मदद मिल सकती है, जबकि प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, मसालेदार भोजन, शराब और कैफीन और लाल मांस से बचने से सूजन और जलन को कम करने में मदद मिल सकती है। यदि आपको संदेह है कि आपको बवासीर है तो अपने चिकित्सक से परामर्श करना याद रखें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now