Create
Notifications

प्रेगनेंसी में कौन सा फल खाएं, कौन सा नहीं- Pregnancy Me Kon Sa Fal Khaye, Kon Sa Nahi

प्रेगनेंसी में कौन सा फल खाएं, कौन सा नहीं(फोटो-Sportskeeda hindi)
प्रेगनेंसी में कौन सा फल खाएं, कौन सा नहीं(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

गर्भवती महिलाओं (Pregnant women) को अपने खान-पान का खास ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि गर्भवती महिलाएं जो भी खाती हैं, उसका सीधा असर उनके और गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ता है। खान-पान में थोड़ी से भी लापरवाही उनके स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को अपने आहार में फलों का सेवन करना चाहिए, क्योंकि फल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, जो उनके और शिशु दोनों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माने जाते हैं। लेकिन हां जरूरी नहीं है कि सभी फल गर्भवती महिलाओं के लिए लाभदायक ही साबित हो, कुछ ऐसे भी फल होते हैं, जिसका सेवन प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को नहीं करना चाहिए। इसलिए आइए जानते हैं गर्भवती महिलाओं को कौन-कौन से फल का सेवन करना चाहिए और कौन से फल का नहीं करना चाहिए।

प्रेगनेंसी में कौन सा फल खाएं, कौन सा नहीं

प्रेगनेंसी में खाएं ये फल

कीवी- गर्भवती महिलाओं के लिए कीवी (Kiwi) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि कीवी में प्रचुर मात्रा में फोलेट पाया जाता है, जो गर्भावस्था के दौरान काफी जरूरी माना जाता है।

अमरूद- गर्भावस्था के दौरान अक्सर कर महिलाओं में खून की कमी हो जाती है। लेकिन अगर गर्भवती महिलाएं अमरूद (Guava) का सेवन करती है, तो इससे खून की कमी नहीं होती है। क्योंकि अमरूद में आयरन पाया जाता है।

नाशपाती- नाशपाती (pear) का सेवन भी गर्भवती महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि नाशपाती में विटामिन-सी पाया जाता है, जो गर्भ में पल रहे शिशु के स्वास्थ्य के लिए काफी जरूरी होता है।

सेब- सेब (Apple) का सेवन भी गर्भवती महिलाओं के लिए काफी लाभदायक साबित होता है। क्योंकि सेब में विटामिन-सी, विटामिन-ए, फाइबर, आयरन, कैल्शियम, फोलेट जैसे तत्व पाए जाते हैं, जो गर्भवती महिला और शिशु दोनों को स्वस्थ रखने में मददगार साबित होते हैं।

अनार- गर्भवती महिलाओं के लिए अनार (Pomegranate) का सेवन फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि अनार एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है, इसलिए इसका सेवन करने से खून की कमी नहीं होती है। साथ ही मां और बच्चा दोनों स्वस्थ रहते हैं।

केला- गर्भवती महिलाओं में होने वाली मॉर्निंग सिकनेस की शिकायत को दूर करने के लिए केले (Banana) का सेवन लाभदायक साबित होता है। साथ ही केले में पोटेशियम, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, सेलेनियम, आयरन जैसे तत्व मौजूद होते हैं। जो महिला को स्वस्थ रखने में मददगार साबित होते हैं।

खरबूज- खरबूजे (Muskmelon) का सेवन भी गर्भवती महिलाओं के लिए लाभदायक साबित होता है। क्योंकि खरबूजे में मैग्नीशियम, जिंक, कैल्शियम, आयरन, विटामिन ए, सी की मात्रा पाई जाती है, और ये सभी तत्व गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी होते हैं।

तरबूज- गर्भवती महिलाओं को तरबूज (Watermelon) का सेवन भी करना चाहिए। क्योंकि तरबूज में आयरन, जिंक, कैल्शियम और विटामिन ए जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो शिशु के विकास में अहम भूमिका निभाते हैं।

इन फलों का न करें सेवन

पपीता- गर्भवती महिलाओं को पपीता का सेवन भूलकर भी नहीं करना चाहिए, क्योंकि पपीता का सेवन करने से गर्भपात होने का खतरा बढ़ सकता है।

अनानास- गर्भवती महिलाओं के अनानास का सेवन भी नहीं करना चाहिए। क्योंकि अनानास का सेवन करने से मां और शिशु दोनों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। साथ ही गर्भपात का खतरा भी बढ़ जाता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...