Create

World Suicide Prevention Day पर आत्महत्या की रोकथाम के लिए ज़रूरी मानसिक स्वास्थ्य का महत्व. जानिए !

Know about the importance of mental health, important for suicide prevention on World Suicide Prevention Day!
World Suicide Prevention Day पर आत्महत्या की रोकथाम के लिए ज़रूरी मानसिक स्वास्थ्य का महत्व. जानिए !

विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस (World Suicide Prevention Day) ये दिन हर साल 10 सितंबर को आत्महत्या के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है। इस दिन के पीछे का मकसद लोगों को उनकी जिन्दगी का महत्व याद दिलाना है. जो अपनी इस खुबसूरत जिंदगी को एक बोझ समझ बैठें हैं और इससे छुटकारा पाना चाहते हैं. विचार सकारात्मकता फैलाना है, लोगों को जीवन में विभिन्न मुद्दों का सामना करने के लिए आशा और साहस देना है।

आत्महत्या और मानसिक स्वास्थ का एक गहेरा रिश्ता है. आत्महत्या करना कोई आम बात नही है इसके लिए जो उर्जा चाहिए वो एक दिमाग ही पैदा कर सकता है. इसलिए आत्महत्या की रोक के लिए काम करना है तो, आपको अपने और अपने अपनों के लिए उनके दिमाग पर करना होगा.

आपको बता दूँ, की भारत में 2019-21 में, 17.56 लाख से अधिक महिलाओं सहित लगभग 4.7 करोड़ ने 54 वर्षों में आत्महत्या करने के लिए विभिन्न साधनों का सहारा लेकर अपना जीवन समाप्त कर लिया, जिसके लिए एनसीआरबी के पास रिकॉर्ड उपलब्ध हैं।

ये एक दिल देहला देने वाला डेटा है, इसीलिए ज़रूरी है मानसिक स्वास्थ के महत्व के बारे में जागरूक होना और इसके बारे में खुल कर बात करना.

मानसिक स्वस्थ का महत्व:

गूगल के अनुसार एक शोध में पाया गया है, की अगर किसी व्यक्ति का मानसिक स्वास्थ ख़राब है, तो वो व्यक्ति सही मानसिक स्वास्थ वाले व्यक्ति की तुलना में आत्महत्या का जोखिम उठाने में लगभग आठ गुना अधिक कोशिश कर सकता है। इसीलिए अगर हमे मिल कर पूरी दुनिया में आत्महत्या के आकड़ों को नीचे लाना हैं तो हमे मिलकर मानसिक स्वास्थ के बारे में लोगों को जागरूक करना होगा.

मानसिक स्वास्थ्य में हमारा भावनात्मक, मनोवैज्ञानिक और सामाजिक कल्याण शामिल है। यह प्रभावित करता है कि हम कैसे सोचते हैं, महसूस करते हैं और कार्य करते हैं। यह, यह निर्धारित करने में भी मदद करता है कि हम तनाव को कैसे संभालते हैं और स्वस्थ विकल्प बनाते हैं। बचपन और किशोरावस्था से लेकर वयस्कता तक, जीवन के हर चरण में मानसिक स्वास्थ्य महत्वपूर्ण है।

यही वजह है की एक स्वस्थ दिमाग आत्महत्या जैसे क्रूर और अमानवीय फैसले को सिरे से नकार देता है.

आपकी मदद के लिए ये कुछ हेल्प लाइन नंबर्स का आप प्रयोग कर खुद को या किसी अपने को बचा सकते है! याद रहे, जिंदगी अनमोल है इसका मज़ा लें.

(Suicide helplines -- Maithri, Cochin: +91 239 6272; Sumaitri, New Delhi: 2338 9090, Sneha, Chennai: 91-44-2464 0050, 91-44-2464 0060, Aasra, Mumbai: 9820466726, Fortis MentalHealth: 8376804102)

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
Be the first one to comment