Create

शिमला मिर्च खाने से मिलेंगे ये लाभकारी फायदे, जानिए!

These beneficial benefits will be available by eating capsicum, know!
शिमला मिर्च खाने से मिलेंगे ये लाभकारी फायदे, जानिए!

शिमला मिर्च एक ऐसी सब्जी है, जिसका इस्तेमाल कई तरह के डिश बनाने में किया जाता है। बाजार में कैप्सिकम कई रंग के मिलते है जैसे- लाल, पीला और हरा। कुछ लोग कैप्सिकम को सलाद के रूप में खाते हैं, तो कुछ लोग इसे सब्जियों में डालकर खाते हैं। खाने में कैप्सिकम का इस्तेमाल होने के बाद उसका स्वाद काफी बढ़ जाता है। लेकिन क्या आपको जानते हैं, कैप्सिकम ना सिर्फ आपके खाने के स्वाद को बढ़ाता है, बल्कि शिमला मिर्च में विटामिन सी, विटामिन ए और बीटा कैरोटीन भरा होता है। इसके अंदर थोड़ी सी भी कैलोरी नहीं होती इसलिये यह कोलेस्ट्रॉ ल को नहीं बढ़ाती।

यह आपके सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। इसीलिए आज हम आपको बताएंगे कि शिमला मिर्च खाने के क्या फायदे हैं।

शिमला मिर्च खाने से मिल सकते हैं ये फायदे:-

1. खून की कमी को करें दूर

कैप्सिकम में विटामिन सी और आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं। यदि आप अपने डाइट में कैप्सिकम को शामिल कर ले, तो आपके शरीर से खून की कमी की समस्या बहुत हद तक दूर हो सकती हैं।

youtube-cover

2. वजन कम करने में करें मदद

कैप्सिकम में थर्मोजेनेसिस पाया जाता है। थर्मोजेनेसिस हमारे शरीर में कैलोरी को तेजी से कम करता है। यदि आप कैप्सिकम को अपने डाइट में शामिल कर ले, तो मोटापा बहुत हद तक कम हो सकता है।

3. डिप्रेशन को करें दूर

कैप्सिकम में मैग्नीशियम और विटामिन बी6 काफी मात्रा में पाया जाता हैं। यह मानसिक तनाव को दूर करने में मदद करता है। यदि आप कैप्सिकम का सेवन करना शुरू कर दें, तो आप डिप्रेशन जैसी समस्याओं से मुक्त हो सकते हैं।

4. इम्यूनिटी को करें स्ट्रांग

कैप्सिकम में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। यदि आप कैप्सिकम का सेवन सही मात्रा में करें, तो आपकी इम्यूनिटी काफी मजबूत हो सकती है। आप खुद को संक्रमित होने से बचा सकते है

शिमला मिर्च खाने के फायदे,
शिमला मिर्च खाने के फायदे,

शिमला मिर्च की तासीर क्या होती है?

विटामिन सी से भरपूर ये मिर्च विटामिन ए और बीटा-कैरोटीन का भी एक प्रमुख सोर्स है. अगर आप वजन घटाने को लेकर फिक्रमंद हैं तो शिमला मिर्च आपके लिए बहुत ही अधिक फायदेमंद है. इसमें बहुत ही कम मात्रा में कैलोरी होती है जो वजन घटाने में मददगार है. इससे मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया बढ़ती है. मिर्च विटामिन ए और फाइबर का भी अच्छा स्रोत है। बेल मिर्च में एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो हृदय रोग और कुछ कैंसर जैसी बीमारियों से बचाने में मदद कर सकते हैं। घंटी मिर्च में यौगिक गठिया जैसी सूजन की स्थिति से बचाने में भी मदद कर सकते हैं।

वैसे आपकी जानकारी के लिए आपको बतादें की इतने रंगों वाली शिमला मिर्च में कौन सी शिमला मिर्च ज़्यादा पोष्टिक होती है, हालांकि समान रूप से लाल शिमला मिर्च में अधिक एंटीऑक्सिडेंट होते हैं - लगभग सात गुना अधिक बीटा-कैरोटीन (और अन्य कैरोटीनॉयड), साथ ही साथ अधिक विटामिन सी और ई की भी इसमें अधिकता पाई जाती है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment