Create

कहीं आपको भी तो नहीं है ज्यादा सोचने की आदत, जान ले इससे होने वाले 9 नुकसान

कहीं आपको भी तो नहीं है ज्यादा सोचने की आदत, जान ले इससे  होने वाले नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
कहीं आपको भी तो नहीं है ज्यादा सोचने की आदत, जान ले इससे होने वाले नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)

क्या आपको भी किसी बात को ज्यादा सोचने की आदत (Over thinking) है ? अगर इसका जवाब हां है, तो हो सावधान जाइए। जी हां क्योंकि ज्यादा सोचने की आदत एक तरह का मानसिक रोग (Mental disorder) है। जिन लोगों को ज्यादा सोचने की आदत होती है वह अपना आधा से ज्यादा समय सोचने में ही लगा देते हैं। ज्यादा सोचने की वजह से मस्तिष्क का आकार भी छोटा हो जाता है। जिसका असर स्वास्थ्य पर काफी बुरा पड़ता है। ज्यादा सोचने की वजह से आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। तो आइए बताते हैं कि ज्यादा सोचने से सेहत पर क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

youtube-cover

कहीं आपको भी तो नहीं है ज्यादा सोचने की आदत, जान ले इससे होने वाले 9 नुकसान-Disadvantages Of Overthinking In Hindi

अनिद्रा की हो सकती है समस्या

जिन लोगों को ज्यादा सोचने की आदत होती है, उनको अनिद्रा (Insomnia) यानि नींद न आने की समस्या रहती है। जी हां क्योंकि उनका दिमाग कभी शांत नहीं होता है, उनके दिमाग में कोई न कोई बात चलती रहती है। जिसकी वजह से उनको नींद नहीं आती है।

डिप्रेशर का बढ़ता है खतरा

ज्यादा सोचने की वजह से कोई भी व्यक्ति डिप्रेशन (Depression) का शिकार हो सकता है। क्योंकि जब हम ज्यादा सोचते हैं तो हमारे शरीर की पॉजिटिव एनर्जी (Positive energy) खत्म हो जाती है। और सिर्फ निगेटिव बातें ही दिमाग में घुमने लगती है। जिसकी वजह से धीरे-धीरे इंसान डिप्रेशन का शिकार हो जाता है।

हार्ट अटैक का बढ़ता है खतरा

जिन लोगों का ज्यादा सोचने की आदत होती है, उनको हार्ट अटैक (Heart Attack) का खतरा भी ज्यादा रहता है। क्योंकि ज्यादा सोचने की वजह से ब्लड प्रेशर हाई हो सकता है, जिसकी वजह से हार्ट अटैक का जोखिम बढ़ जाता है।

सिर दर्द की हो सकती है समस्या

जिन लोगों को ज्यादा सोचने की आदत होती है, उनको सिर दर्द (Headache) की शिकायत भी बनी रहती है। क्योंकि बहुत ज्यादा सोचने की आदत तनाव को पैदा करती है, जिसकी वजह से सिर दर्द और थकान महसूस होने लगता है।

दिल के लिए हानिकारक

ज्यादा सोचने की आदत की वजह से दिल (Heart) की सेहत पर गंभीर असर पड़ सकता है, जिसकी वजह से आपको छाती में दर्द, चक्कर आने जैसी कुछ समस्याएं हो सकती है।

इम्यूनिटी होती है कमजोर

जिन लोगों को ज्यादा सोचने की आदत होती है, उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर (Weak Immunity) हो जाती है। जिसकी वजह से आप आसानी से किसी भी संक्रमण की चपेट में आने से बच सकते हैं।

स्किन को पहुंचता है नुकसान

ज्यादा सोचने की आदत की वजह से स्किन (Skin) पर भी बुरा असर पड़ता है। जी हां अगर आप ज्यादा सोचते हैं, तो यह शरीर में सूजन का कारण बनता है, जो त्वचा पर दानें या पिंपल्स के रुप में दिखाई देता है।

बालों पर पड़ता है असर

ज्यादा सोचने का असर बालों पर भी पड़ता है। जी हां ज्यादा सोचने की वजह से स्ट्रेस (Stress) की समस्या हो जाती है। जिसकी वजह से बाल झड़ने (Hair fall) शुरू हो जाते है।

समय की होती है बर्बादी

जिस व्यक्ति को ज्यादा सोचने की आदत होती है उनकी सबसे ज्यादा समय की बर्बादी होती है। क्योंकि किसी काम को करने के पहले जितना ज्यादा सोचेंगे उतनी ज्यादा समय की बर्बादी होगी। जिसकी वजह से वह किसी भी काम को सही समय पर नहीं कर पाते है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment