महिला हॉकी विश्व कप : भारत ने दर्ज की पहली जीत, शूटआउट में कनाडा को दी मात

कप्तान सविता पुनिया शूटआउट में कनाडा के 6 प्रयास रोकने में कामयाब रहीं।
कप्तान सविता पुनिया शूटआउट में कनाडा के 6 प्रयास रोकने में कामयाब रहीं।

भारतीय महिला हॉकी टीम ने आखिरकार FIH महिला हॉकी विश्व कप में अपनी पहली जीत दर्ज कर ली है। टीम ने 9वें से 16वें स्थान के क्लासिफिकेशन के लिए हुए पहले मैच में कनाडा के खिलाफ शूटआउट में 3-2 से जीत दर्ज की। भारत की जीत की हीरो रही सलीमा टेटे और कप्तान सविता पुनिया। सलीमा ने जहां 1-0 से पिछड़ रही भारतीय टीम के लिए मैच खत्म होने से तीन मिनट पहले गोल कर ड्रॉ करवाया, तो वहीं शूटआउट में गोलकीपर सविता ने बेहतरीन प्रदर्शन कर टीम की जीत पक्की की।

अपने से निचले रैंक वाली कनाडा के खिलाफ भारतीय टीम मैच की शुरुआत से ही काफी बिखरी हुई दिखी। मैच की शुरुआत में भारत से पोजेशन लेते हुए कनाडा ने एक के बाद एक मौके बनाए। 10वें मिनट में सेको मेडेलिन ने पेनेल्टी कॉर्नर को गोल में बदला और कनाडा को 1-0 से आगे कर दिया। दूसरे क्वार्टर में भारतीय टीम ने थोड़ा बेहतर खेल दिखाया लेकिन गोल करने में नाकामयाब रही। तीसरे क्वार्टर में भी यही स्थिति रही। चौथे क्वार्टर में मैच खत्म होने से 3 मिनट पहले सलीमा ने पेनेल्टी कॉर्नर को गोल में बदला और मैच 1-1 के स्कोर से ड्रॉ रहा।

कनाडा की गोलकीपर हैरिस रोएन ने भारत के कई मौके रोकने में कामयाबी हासिल की।
कनाडा की गोलकीपर हैरिस रोएन ने भारत के कई मौके रोकने में कामयाबी हासिल की।

इसके बाद शूटआउट में भारत के लिए नेहा, सोनिका, नवनीत कौर ने गोल किए, जबकि कनाडा के लिए सिर्फ 2 शॉट निशाने पर लगे। कप्तान और गोलकीपर सविता पुनिया ने कनाडा के 6 प्रयास नाकाम किए और भारत को जीत दिलाई। टीम इंडिया पहले ही खिताब की दौड़ से बाहर हो चुकी है। पूल मैचों में टीम ने चीन और इंग्लैंड के खिलाफ ड्रॉ खेले तो न्यूजीलैंड के खिलाफ हारकर पूल में तीसरे स्थान पर रही। इसके बाद क्रॉसओवर के जरिए क्वार्टरफाइनल में पहुंचने के लिए हुए मैच में स्पेन के हाथों आखिरी मिनटों में गोल खाकर 1-0 से हार गई। अब कनाडा के खिलाफ टीम ने टूर्नामेंट की पहली जीत दर्ज की है और फिलहाल इस जीत के बाद 9वें से 12वें स्थान के लिए हो रहे मुकाबलों में 13 जुलाई को जापान का सामना करेगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment