Create

एशिया कप हॉकी : भारतीय महिलाओं चीन को हराकर जीता कांस्य, जापान बना विजेता

भारतीय महिला टीम ने तीसरी बार एशिया कप हॉकी का कांस्य पदक अपने नाम किया।
भारतीय महिला टीम ने तीसरी बार एशिया कप हॉकी का कांस्य पदक अपने नाम किया।
Hemlata Pandey

गत चैंपियन भारत ने महिला एशिया कप हॉकी का कांस्य पदक जीत लिया है। भारतीय महिला टीम ने चीन को तीसरे स्थान के लिए हुए मुकाबले में 2-0 से हराकर पदक हासिल किया। वहीं जापान ने दक्षिण कोरिया को मात देकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। सेमिफाइनल में पहुंचने वाली चारों टीमों ने इस साल जुलाई में होने वाले महिला विश्व कप के लिए क्वालिफाय कर चुकी हैं।

Just the performance we wanted to see😍Great game for #TeamIndia as they clinch the 🥉 Medal and put in a perfect finish to their last game of the tournament💙🇮🇳 2:0 🇨🇳#IndiaKaGame #WAC2022 https://t.co/SwBI0V786a

पहले हाफ में दोनों गोल

भारतीय महिलाओं ने पहले हाफ में अटैक मजबूत करते हुए मौके बनाने की कोशिश की। पहला क्वार्टर खत्म होने से ठीक पहले शर्मिला ने पेनेल्टी कॉर्नर को गोल में बदल कर टीम को 1-0 से आगे कर दिया। इसके बाद दूसरे क्वार्टर में 19वें मिनट में भारत को एक और पेनेल्टी कॉर्नर मिला जिसे पेनेल्टी कॉर्नर स्पेशलिस्ट गुरजीत कौर ने गोल में बदलकर टीम को 2-0 से आगे कर दिया। तीसरे क्वार्टर में टीम इंडिया ने गोल करने की पूरी कोशिश की, लेकिन चीन की टीम ने अपना डिफेंस मजबूत बनाए रखा। आखिरी क्वार्टर में भी दोनों टीमें गोल करने में नाकामयाब रहीं और मैच 2-0 से भारत के नाम रहा। भारत ने इससे पहले साल 1993 और 2013 में कांस्य पदक जीता था।

भारत ने पिछली बार 2017 में चीन को फाइनल में पेनेल्टी कॉर्नर के दम पर हराते हुए एशिया कप का खिताब जीता था। ऐसे में इस बार भी फैंस को टीम से खिताब की उम्मीद थी, लेकिन टीम सेमिफाइनल में दक्षिण कोरिया के हाथों 3-2 से हारकर गोल्ड की रेस से बाहर हो गई। भारत ने कुल 2 बार 2004 और 2017 में खिताब जीता है, जबकि टीम 1999 और 2009 में दूसरे स्थान पर रही थी।

जापान के नाम तीसरा खिताब

जापान ने फाइनल में कोरिया को 4-2 से मात देते हुए अपना तीसरा एशिया कप खिताब जीता। इससे पहले टीम 2007 और 2013 में खिताब अपने नाम कर चुकी है। खास बात ये है कि इस बार की तरह पिछली दो बार भी जापान ने दक्षिण कोरिया को ही फाइनल में हराते हुए खिताब जीता था।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...