Create

Hockey News - कोरोनावायरस की वजह से सुल्तान अजलान शाह कप हुआ स्थगित

Shikha
अजलन शाह कप स्थगित
अजलन शाह कप स्थगित

कोरोनावायरस की चपेट में लोगों के साथ-साथ खेल भी आ गए हैं, क्योंकि इस वायरस के कारण खिलाड़ियों की जान खतरे में रहती है। ऐसे में खेलों पर भी इस खतरनाक वायरस का असर पड़ रहा है। यहां तक कि अगले महीने अप्रैल में होने वाले हॉकी के बड़े टूर्नामेंट सुल्तान अजलान शाह कप को भी स्थगित करना पड़ा है।

कोरोनावायरस के कारण अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट की तारीख आगे बढ़ा दी गई है। यह टूर्नामेंट मलेशिया के इपोह शहर में 11 से 18 अप्रैल तक होना था। अब यह 24 सितंबर से 3 अक्टूबर के बीच होगा। चीन में कोरोनावायरस से 2912 लोगों की मौत हो गई। चीन के बाहर सबसे ज्यादा 4212 संक्रमण के मामले दक्षिण कोरिया में सामने आए। यहां 22 मौतें हुईं। मलेशिया में अब तक 29 संक्रमित मिले हैं।

यह टूर्नामेंट हर साल मलेशिया में होता है। पिछली बार दक्षिण कोरिया ने खिताब जीता था। उसने फाइनल में भारत को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से शिकस्त दी थी। टीम इंडिया ने 6 बार 1985, 1991, 1995, 2009 और 2010 यह खिताब जीता है।

दिसंबर 2019 के आखिरी हफ्ते में चीन में कोरोनावायरस नामक एक बीमारी फैलनी शुरू हुई। इस रहस्यमयी वायरस से अबतक 87 हजार लोग संक्रमित हो चुके हैं और चार हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लगभग खेल जगत भी इससे अछूता नहीं रहा। टोक्यो ओलंपिक 2020 में संकट के बादल तो मंडरा ही रहे थे कि अब सुल्तान अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट को स्थगित करना पड़ा।पहले हॉकी का यह प्रतिष्ठित टूर्नामेंट 11 से 18 अप्रैल तक होने वाला था। 29वें संस्करण की मेजबानी मलेशिया का इपोह शहर कर रहा था, लेकिन कोरोनावायरस के खतरे के चलते अब टूर्नामेंट 24 सितंबर से 3 अक्टूबर के बीच खेला जाएगा।

क़तर में होने वाली मोटोजीपी रेस भी रद्द

कोरोनावायरस के कारण ही कतर में होने वाली मोटोजीपी सीजन की पहली बाइक रेस रद्द कर दी गई। यह रेस 8 मार्च से राजधानी दोहा में होने वाली थी। मोटोजीपी का दूसरा राउंड थाईलैंड में 22 मार्च को आयोजित होना है। इंटरनेशनल मोटरसाइकिलिंग फेडरेशन (आईएमएफ) ने कहा, ‘‘इटली, कतर सहित कई देशों के बीच यात्रा प्रतिबंधों के कारण लोसैल सर्किट पर होने वाली रेस नहीं होगी। हालांकि, मोटो-2 और मोटो-3 वर्ल्ड चैम्पियनशिप रेस तय समय पर ही होगी। इसके लिए सभी टीमों के राइडर्स पहले ही पहुंच चुके हैं।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment