Create
Notifications

प्रो कबड्डी 2019: टूर्नामेंट की बेस्ट प्लेइंग 7 पर एक नजर 

प्रो कबड्डी 2019 की बेस्ट टीम
प्रो कबड्डी 2019 की बेस्ट टीम
मयंक मेहता
visit

प्रो कबड्डी 2019 का शानदार तरीके से हुआ। बंगाल वॉरियर्स की टीम ने पहली बार खिताबी जीत हासिल की। उन्होंने फाइनल में दबंग दिल्ली को हराया। बंगाल की जीत में टीम की कप्तानी संभाल रहे मोहम्मद नबीबक्श का अहम योगदान रहा।

यह भी पढ़ें: प्रो कबड्डी 2019 में सबसे ज्यादा रेड, टैकल पॉइंट्स, सुपर 10, हाई 5, सुपर रेड, सुपर टैकल करने वाले टॉप खिलाड़ियों की लिस्ट

इस सीजन में कई खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी शानदार रहा। कुछ युवा खिलाड़ियों ने अपनी छाप छोड़ी, तो दूसरी तरफ कई दिग्गज खिलाड़ी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन किया।

अब जब सीजन खत्म हो चुका है, तो आइए नजर डालते हैं खिलाड़ियों के प्रदर्शन और उनके इम्पैक्ट के हिसाब से इस सीजन की बेस्ट 7 टीम:

नितेश कुमार (राइट कॉर्नर)

नितेश कुमार
नितेश कुमार

यूपी योद्धा के कप्तान नितेश कुमार की शुरुआत इस सीजन में इतनी शानदार नहीं रही थी। हालांकि नितेश ने जल्द ही फॉर्म में जबरदस्त वापसी की और वो अपनी टीम को प्लेऑफ तक लेकर गए। नितेश ने एलिमिनेटर मुकाबले में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन टीम को सेमीफाइनल तक नहीं ले जा पाए। नितेश ने इस सीजन में 24 मुकाबले खेले, जिसमें उनके नाम 75 टैकल पॉइंट्स थे। इस बीच नितेश ने 6 हाई 5 भी लिए।

नवीन कुमार (राइट कॉर्नर)

नवीन कुमार
नवीन कुमार

दबंग दिल्ली को फाइनल तक पहुंचाने में नवीन कुमार का अहम योगदान रहा। नवीन ने इस सीजन 22 सुपर 10 लगाए, जिसमें लगातार 21 सुपर 11 शामिल थे। नवीन ने इस सीजन में 23 मुकाबले खेले, जिसमें उनके 301 रेड पॉइंट्स दर्ज हैं। इस सीजन में शानदार प्रदर्शन के कारण ही उनका नाम नवीन 'एक्सप्रेस' रखा गया।

सुरजीत नरवाल (राइट कवर)

सुरजीत नरवाल
सुरजीत नरवाल

पुनेरी पलटन का प्रदर्शन इस सीजन में काफी निराशाजनक रहा और टीम प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई। हालांकि टीम के कप्तान सुरजीत नरवाल का प्रदर्शन संतोषजनक रहा। उन्होंने इस सीजन में 21 मुकाबले खेले, जिसमें उनके 63 टैकल पॉइंट्स थे। इस बीच उन्होंने 7 हाई 5 भी लगाए। उनके रहने से टीम की डिफेंस को भी मजबूती मिलेगी।

परदीप नरवाल (सेंटर)

परदीप नरवाल
परदीप नरवाल

पटना पाइरेट्स के कप्तान परदीप नरवाल ने एक बार फिर शानदार प्रदर्शन किया। परदीप नरवाल ने इस सीजन खेले 22 मुकाबलों में 304 पॉइंट्स हासिल किए। इसमें 302 रेड और 2 टैकल पॉइंट्स शामिल हैं। इसके अलावा परदीप नरवाल ने इस सीजन 15 सुपर 10 भी लगाए। परदीप जैसे इम्पैक्ट प्लेयर के बिना कोई भी टीम अधूरी है।

# मोहम्मद नबीबक्श (ऑलराउंडर)

Enter caption

बंगाल वॉरियर्स को चैंपियन बनाने में अपना पहला सीजन खेल रहे मोहम्मद नबीबक्श का योगदान काफी अहम रहा। नियमित कप्तान मनिंदर सिंह की गैरमौजूदगी में नबीबक्श ने न सिर्फ टीम की कमान शानदार तरीके से संभाली, बल्कि फाइनल जैसे बड़े मुकाबले में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए टीम को खिताबी जीत दिलाई।

मोहम्मद नबीबक्श ने भले ही सिर्फ 122 पॉइंट हासिल किए हैं, लेकिन उन्होंने कई मैच अपने दम पर टीम को जिताए। इसके अलावा नबी रेडिंग और डिफेंस में दोनों में अहम भूमिका निभाते हैं।

#पवन सेहरावत (लेफ्ट इन)

पवन सेहरावत
पवन सेहरावत

बेंगलुरु बुल्स को अकेले दम पर सेमीफाइनल में पवन सेहरावत ही लेकर गए। पवन ने इस सीजन में खेले 24 मुकाबलों में 18 सुपर 10 की मदद से 346 पॉइंट हासिल किए हैं। पवन ने इसके अलावा हरियाणा स्टीलर्स के खिलाफ हुए मैच में 39 पॉइंट लेते हुए इतिहास रचा था। इसके अलावा पवन इस सीजन में सबसे ज्यादा पॉइंट्स हासिल करने वाले खिलाड़ी भी थे।

#फजल अत्राचली (लेफ्ट कॉर्नर और कप्तान)

फजल अत्राचली
फजल अत्राचली

यू मुम्बा के कप्तान फजल अत्राचली इस सीजन के सबसे सफल डिफेंडर रहे। फजल ने इस सीजन में 24 मुकाबले खेले, जिसमें उनके नाम 83 टैकल पॉइंट्स थे। इस बीच उनके नाम 4 हाई 5 भी थे। फजल अपनी टीम को सेमीफाइनल तक लेकर गए। उन्होंने जिस तरह टीम की कप्तानी की, वो इस टीम के कप्तान भी होंगे।

Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now