Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

प्रो कबड्डी 2019: प्ले ऑफ में होने वाले सभी मैचों और टीमों को मिलने वाली प्राइज मनी की पूरी जानकारी

  • PKL7: पढ़िए प्लेऑफ में किस टीम का मुकाबला किसके साथ होगा?
FEATURED WRITER
फ़ीचर
Modified 21 Dec 2019, 00:44 IST

प्लेऑफ की शुरुआत सभी 6 टीमों के कप्तान
प्लेऑफ की शुरुआत सभी 6 टीमों के कप्तान

प्रो कबड्डी के सातवें सीजन का लीग स्टेज खत्म हो चुका है। इस साल दबंग दिल्ली, बंगाल वॉरियर्स, यू मुंबा, हरियाणा स्टीलर्स, बेंगलुरु बुल्स और यूपी योद्धा ने प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर लिया है। इस बार पीकेएल के प्लेऑफ के फॉर्मेट में बदलाव देखने को मिला। पिछले सीजन की तुलना में इस बार पहले दो स्थान पर रहने वाली टीमें सीधे सेमीफाइनल में पहुंचेगी, तो तीसरे, चौथे, पांचवें और छठे स्थान पर रहने वाली टीमें एलिमिनेटर मुकाबला खेलेंगी। 

आपको बता दें कि दबंग दिल्ली और बंगाल वॉरियर्स की टीमें पहले और दूसरे स्थान पर रही और वो सीधे सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। दूसरी तरफ यूपी योद्धा, हरियाणा स्टीलर्स, यू मुंबा और बेंगलुरु बुल्स की टीमों को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए एलिमिनेटर मुकाबला जीतना होगा।

प्रो कबड्डी 2019: ग्रेटर नोएडा लेग के बाद अंक तालिका, टॉप रेडर्स और डिफेंडर्स- अपडेटेड आंकड़े

यूपी योद्धा की टीम तीसरे, यू मुंबा चौथे, हरियाणा स्टीलर्स पांचवें और बेंगलुरु बुल्स छठे स्थान पर रही। इसके अलावा एलिमिनेटर, सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबला अहमदाबाद में ही 14 से 19 अक्टूबर तक खेले जाएंगे।

अब सभी के दिमाग में एक बात चल रही होगी कि प्ले ऑफ के मुकाबले किस प्रकार होंगे और कैसे अंत में दो फाइनलिस्ट टीमें मिलेंगी?

प्ले ऑफ में होने वाले सभी मैचों का कार्यक्रम इस प्रकार हैं:

पहला एलिमिनेटर: यूपी योद्धा vs बेंगलुरु बुल्स - 14 अक्टूबर 2019

दूसरा एलिमिनेटर: यू मुंबा vs हरियाणा स्टीलर्स- 14 अक्टूबर 2019

पहला सेमीफाइनल: दबंग दिल्ली vs पहले एलिमिनेटर की विजेता- 16 अक्टूबर 2019

दूसरा सेमीफाइनल- बंगाल वॉरियर्स vs दूसरे एलिमिनेटर की विजेता- 16 अक्टूबर 2019

Advertisement

फाइनल- पहले सेमीफाइनल की विजेता टीम vs दूसरे सेमीफाइनल की विजेता टीम- 19 अक्टूबर 2019

आपको बता दें कि इस साल प्रो कबड्डी जीतने वाली टीम को 3 करोड़ रुपये मिलेंगे, तो साथ ही में रनरअप टीम को 1.80 करोड़ रुपये। तीसरे और चौथे स्थान पर रहने वाली टीम को 90-90 लाख मिलेंगे, तो पांचवें और आखिरी स्थान पर रहने वाली टीम को 45-45 लाख मिलेंगे।

Published 13 Oct 2019, 22:00 IST
Advertisement
Fetching more content...